Breaking News

टूलकिट कांड में बड़ा खुलासा, ग्रेटा थनबर्ग और दिशा रवि की व्हाट्सएप चैट आयी सामने

टूलकिट कांड में स्वीडन की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग और बेंगलुरू से गिरफ्तार दिशा रवि के बीच व्हाट्स ऐप पर जो बातचीत हुई थी वो सामने आ गई है. इस चैट में दिशा ग्रेटा को टूलकिट शेयर नहीं करने के लिए कह रही है.

दिशा ने ग्रेटा को ये बताया है कि हमलोगों के खिलाफ यूएपीए कानून के तहत कार्रवाई हो सकती है. दोनों के बीच करीब बीस मिनट तक व्हाट्सऐप पर बातचीत होती रही. इस चैट में दिशा ने ग्रेटा थनबर्ग को ये भी भरोसा दिया कि उस पर कोई आंच नहीं आएगी. ग्रेटा थनबर्ग और दिशा रवि के बीच टूलकिट अपलोड होने के बाद हुई बातचीत मीडिया में वायरल हो रही ह.

ग्रेटा- बड़ा अच्छा होता अगर ये अभी तैयार होता, इसके चक्कर में मुझे कई धमकियां मिलती. इसने तो हंगामा खड़ा कर दिया.

दिशा- शिट, शिट अभी भेज रही हूं. क्या तुम टूल किट को बिल्कुल ट्वीट नहीं कर सकती हो क्या अभी हम कुछ भी नहीं बोल सकते? मैं वकीलों से बात करती हूं. आई एम सॉरी, इस पर हमारा नाम है और हम लोगों के खिलाफ यूएपीए के तहत कार्रवाई हो सकती है. क्या तुम ठीक हो?

ग्रेटा- मुझे कुछ लिखना है.

दिशा- क्या तुम मुझे 5 मिनट दे सकती हो, मैं वकीलों से बात कर रही हूं.

ग्रेटा- कई बार इस तरह की नफरत वाली आंधी आती है और ये वाकई जबरदस्त होती हैं.

Loading...

दिशा- पक्का, मुझे माफ करना, हम सब डर गए क्योंकि यहां हालात खराब होने लगे हैं. लेकिन हम ये सुनिश्चित करेंगे कि तुम पर आंच न आए. हमें सभी सोशल मीडिया हैंडल को डिएक्टिवेट करना होगा.

टूलकिट कांड को लेकर दिल्ली पुलिस ने जूम को चि_ी लिखी है. मीटिंग में शामिल लोगों के बारे में जूम से जानकारी मांगी गई है. टूलकिट कांड में ये बात सामने आई थी कि 11 और 22 जनवरी को निकिता जैकब, दिशा रवि, शांतनु समेत कई लोगों ने जूम प्लेटफार्म पर मीटिंग की गई थी, जिसमें किसान आंदोलन के जरिये देश विरोधी गतिविधियों को बढ़ाने की बात हुई थी.

टूलकिट केस में दिल्ली पुलिस ने एक और किरदार का खुलासा किया है. इस नए किरदार का नाम पीटर फैड्रिक है. दिल्ली पुलिस के अनुसार पीटर फैड्रिक इस पूरे टूलकिट मामले का मास्टरमाइंड है. जिस टूल किट को लेकर विवाद चल रहा है उसका नाम ग्लोबल फार्मर्स स्ट्राइक और ग्लोबल डे ऑफ एक्शन 26 जनवरी रखा गया था. दिल्ली पुलिस का दावा है कि पीटर फैड्रिक साल 2006 से भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर है.

पुलिस के अनुसार पीटर फैड्रिक बताता था कि सोशल मीडिया पर किसे है टैग करना है, क्या हैशटैग करना है और किस पोस्ट को ट्रेंड करवाना है. पीटर फैड्रिक खालिस्तानी आतंकी भजन सिंह भिंडर का साथी है. भजन सिंह आईएसआई के लिए भी काम कर चुका है.

वहीं दिल्ली पुलिस का कहना है कि उसके पास पूरे सबूत हैं. दिल्ली पुलिस ने कहा है कि दिशा रवि ने टूल किट डॉक्यूमेंट को तैयार करने और उसे वायरल करने में अहम भूमिका निभाई थी. उसने व्हाट्सएप ग्रुप शुरू किया था और टूल किट तैयार करने में सहयोग किया था और ड्राफ्ट तैयार करने वालों के साथ जुड़कर काम कर रही थी.

दिल्ली पुलिस के अनुसार दिशा रवि खालिस्तान समर्थक पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन के सहयोग से देश के खिलाफ असंतोष का माहौल बनाने का काम कर रही थी. दिल्ली पुलिस ने दिशा रवि का मोबाइल फोन बरामद कर लिया है.

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

अमित शाह का बड़ा हमला, पुडुचेरी में नारायणसामी ने बहाई भ्रष्टाचार की गंगा, गांधी परिवार के सेवा में भेजे 15000 करोड़

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें कराईकल। गृहमंत्री अमित शाह ने पुडुचेरी के कराईकल ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *