Breaking News

सचिन का बड़ा खुलासा, जब धोनी ने पूरी टीम को किया था उनसे अलग

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले लिटिट मास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपने संन्यास के तकरीबन 8 साल बाद बड़ा खुलासा किया है। सचिन ने ये खुलासा न सिर्फ अपनी रिटायरमेंट को लेकर किया है बल्कि तत्काली कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को लेकर भी किया है। सचिन ने पिछले दिनों ‘ऑकट्री स्पोर्ट्स’ यूट्यूब चैनल के लिए गौरव कपूर को दिए अपने इंटरव्यू कहा था कि धोनी ने पूरी टीम को मुझसे अगल कर दिया था और उन्हें लगा की अब वो नहीं खेल पाएंगे।

दरअसल सचिन ने साल 2013 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया यह मैच उनका 200वां टेस्ट मैच भी था। अपने आखिरी टेस्ट और रिटार्यमेंट को याद करते हुए गौरव कपूर को दिए इंटरव्यू में कहा था कि रिटायरमेंट के दिन उनकी मां, पत्नी और पूरा परिवार स्टेडियम पहुंचा था। तत्कालीन कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सभी खिलाड़ियों को उनसे अलग कर दिया था। वह उनके लिए सबसे भावुक समय था। उस दिन उन्हें लगा कि वे इसके बाद नहीं खेल पाएंगे।

सचिन ने कहा कि ‘मैं अपने रिटायरमेंट पर कुछ बोलने वाला था, हाथ पानी के बोतल का था। मुझे तब पहली बार तब लगा कि अब आगे यह सब कुछ नहीं होने वाला है। अब मैं नहीं खेल पाऊंगा। इसी दौरान धोनी ने सभी खिलाड़ियों को एक तरफ बुलाया और मुझे कहा कि पाजी दो मिनट के लिए आप थोड़ा दूर जाओ। वे लोग इस मौके को मेरे लिए खास बनाने चाहते थे और इसके लिए कुछ प्लानिंग कर रहे थे। उसी समय मुझे लगा की अब में नहीं खेल पाउंगा। मैं उस वक्त काफी भावुक हो गया था। लिहजा में सीधे ड्रेसिंग रूम में चला गया और वहां अकेले बैठ गया।’

Loading...

टैस्ट क्रिकेट से अपने संन्यास के दिन को याद करते हुए कहा कि ‘मुझे आखिरी टेस्ट में खेलते हुए देखने के लिए मेरी मां के साथ-साथ पूरा परिवार आया था। इससे पहले मेरी मां ने तो मुझे किसी फ्रेंडली मैच भी खेलते हुए नहीं देखा था। उससे पहले मां के अलावे सभी लोग मुझे खेलते हुए स्टेडियम में लाइव देख चुके थे। अंचली ने 2004 में ऑस्टेलिया के खिलाफ मेलबर्न में बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में खेलते हुए आखिरी बार लाइव देखा था।’

उन्होंने आगे कहा कि ‘अंजली मेरा मैच देखने कभी स्टेडियम में नहीं आती थी। मेलबर्न टेस्ट में अन्य खिलाड़ियों की पत्नियों ने अंजली से स्टेडियम चलने की जिद की। अंजली ने उन्हें कहा कि वो थोड़ी सी सुपरस्टीटियस हूं। लेकिन सबके कहने पर वो मैच देखने स्टेडियम में आई। मैं खेलने उतरा। ब्रेट ली ने अपनी पहली गेंद फेंकी जिसे मैंने डाउन द लेग खेला। शॉट लगा और एडम गिलक्रिस्ट ने डाइव लगाकर शानदार कैच ले लिया। इसके बाद अंजली चुपचाप चली गई और उसके बाद फिर कभी वो मैच देखने नहीं आई। इसके बाद सीधे वो मेरे आखिरी टेस्ट में आई थी।’

सचिन का कहा कि ‘मैच के दौरान मैं नहीं चाहता था कि मेरे परिवार का कोई वहां बैठा हो। अगर कोई आता है फैमिली से तो मैं कहता हूं कि खुद को कहीं छुपा लो। मैं मैच के दौरान खेलना चाहता हूं, उनके देखना नहीं। मैं उन पर फोकस नहीं करना चाहता था।’

Loading...

About Ankit Singh

Check Also

ICC और BCCI में बीच बढ़ी तकरार, इस कदम के विरोध में खड़ा हुआ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और इंटरनेशनल क्रिकेट बोर्ड ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *