Breaking News

रक्षा बंधन पर महिलाओं को सीएम योगी ने दिया मिशन शक्ति का तोहफा

लखनऊ।  सीएम योगी ने रक्षा बंधन पर महिलाओं को मिशन शक्ति का तोहफा दिया है। मुख्‍यमंत्री ने शनिवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्‍ठान में मिशन शक्ति के तीसरे चरण की शुरुआत की। कार्यक्रम के मंच से सीएम ने एक के बाद एक महिलाओं के लिए कई सौगातों का ऐलान किया । 03 महिला पुलिस पीएसी वाहिनियों के शिलान्‍यास के साथ ही 10,000 से अधिक महिला पुलिस कर्मियों को पुलिस बीट अधिकारी के रूप में तैनाती दी गई । इस मौके पर उत्‍कृष्‍ट कार्य करने वाली 75 जिलों की 75 महिलाओं को मुख्‍यमंत्री ने सम्‍मानित भी किया। मिशन शक्ति के तीसरे चरण की शुरुआत करते हुए सीएम योगी ने कहा कि कोई भी समाज आधी आबादी को नजरंदाज करके कभी समर्थ नहीं बन सकता है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की योजनाओं से प्रेरणा लेते हुए नारी शक्ति के सम्‍मान और स्‍वाभिमान के लिए राज्य में कई कार्यक्रम शुरू किए गए हैं।

मिशन शक्ति के तीसरे चरण का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि रक्षाबंधन पर आयोजित कार्यक्रम नारी सुरक्षा, नारी सम्मान और नारी स्वाबलंबन की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित कार्यक्रम का लाइव प्रसारण देख रहीं सभी 75 जनपदों की बहनों को रक्षाबंधन की बधाई दी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में संचालित मिशन शक्ति का कार्यक्रम इस बात का गवाह है कि जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में महिलाएं आगे बढ़ रही हैं और प्रत्येक क्षेत्र में सफलता की नई कहानी लिख रही हैं।

सीमए योगी ने कहा कि पीएम मोदी ने देश को नई दिशा दी। 2014 देश के अंदर युग परिवर्तन का वर्ष है। देश की लगभग आधी आबादी की सुरक्षा उनके सम्मान उनके स्वावलंबन को लेकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का अभियान शुरू हुआ । मातृ वंदना का कार्यक्रम हो या जननी सुरक्षा का कार्यक्रम, नारी गरिमा की रक्षा के लिए हर गरीब परिवार के यहां इज्जत घर का निर्माण, स्वामित्व योजना के माध्यम से वरासत का लाभ देने का काम किया। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की योजनाओं से प्रेरणा लेते हुए राज्य में कई कार्यक्रम शुरू किए।

योगी ने कहा कि वर्ष 2017 से पहले प्रदेश में क्या हालात थे ये सब जानते हैं। असुरक्षा का भाव था। जब समाज में असुरक्षा का भाव हो तो स्वाभाविक रूप से उसका प्रभाव उसके सम्मान पर भी पड़ता है। उसके स्वावलंबन पर पड़ता है। प्रदेश सरकार ने असुरक्षा की मनोवृति को दूर करने के लिए बिना किसी संकोच के प्रदेश के अंदर नारी सुरक्षा का एक विशेष अभियान प्रारंभ किया और यही कार्यक्रम मिशन शक्ति के रूप में आगे बढ़ रहा है।

सीएम ने कहा कि 19662 महिलाओं को स्वामित्व योजना का लाभ दिया गया है। महिला स्वयंसेवी समूह के माध्यम से आज जनपद सोनभद्र, चंदौली, मिर्जापुर, बलिया, गाजीपुर के लिए मिनी मिल्क प्रोड्यूसर कंपनी की तर्ज पर ही भारत सरकार के सहयोग से 35 करोड़ की परियोजना स्वीकृत की गई।

75 जनपदों की 75 नारी शक्तियों का किया सम्मान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार ने आजादी की अमृत महोत्सव कार्यक्रम में लखनऊ में 75 बहनों को सम्मानित किया है। इस तरह के कार्यक्रम प्रदेश के सभी 75 जनपदों के सभी जिला मुख्यालयों में भी आयोजित किये गये हैं ।

1.55 लाख बेटियों के खातों में भेजी गई 30.12 करोड़ धनराशि

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश की 1.55 लाख बेटियों के खातों में 30.12 करोड़ रुपए की धनराशि का वितरण भी वित्त मंत्री ने किया है। कन्या सुमंगला योजना में बालिका के जन्म से लेकर के बालिका के स्नातक तक की पढ़ाई के लिए राज्य सरकार 15000 रुपये से उस बालिका के नाम पर परिवार को उपलब्ध करा रही है।

पैसे के लिए नहीं जाना होगा बैंक

सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार ने तय किया है कि किसी भी बहन को पैसा निकालने के लिए बैंक नहीं जाना पड़ेगा। इसके लिए सभी 58000 ग्राम पंचायतों में बीसी सखी की तैनाती की जा रही है।

About Samar Saleel

Check Also

प्रदेश में शहर से लेकर गांव तक बह रही है विकास की गंगा : सांसद

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें औरैया। प्रदेश सरकार के साढ़े चार वर्ष पूर्ण होने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *