Breaking News

वीर सावरकर पर निशाना साधकर किया पाप

पंडित जवाहरलाल नेहरू, वी.डी. सावरकर या किसी अन्य स्वतंत्रता सेनानी की प्रतिष्ठा को धूमिल नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि वे अपना पक्ष रखने के लिए इस संसार में नहीं हैं। #राउत ने कहा कि नेहरू या किसी अन्य ऐतिहासिक शख्सियत को निशाना बनाकर सावरकर के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियों का जवाब देने की जरूरत नहीं है। राउत शिवसेना के उद्धव ठाकरे धड़े के रुख को स्पष्ट करने के एक दिन बाद यहां पत्रकारों से बात कर रहे थे कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को सावरकर के बारे में विवादास्पद टिप्पणी करने की जरूरत नहीं थी।

उन्होंने कहा था कि यह महाराष्ट्र में कांग्रेस, राकांपा और शिवसेना के महा विकास आघाड़ी (एमवीए) गठबंधन को प्रभावित कर सकता है। राज्यसभा सदस्य ने शनिवार को कहा, ‘‘पंडित नेहरू और सावरकर दोनों की प्रतिष्ठा को धूमिल करने के प्रयास बंद होने चाहिए। देश की आजादी के लिए कुर्बानी देने वाले स्वतंत्रता सेनानी किसी विचारधारा या राजनीतिक दल के नहीं हैं।’’ उन्होंने कहा,‘‘ये नेता अब इस दुनिया में नहीं हैं और इसलिए अब अपना बचाव नहीं कर सकते हैं।’’

उन्होंने यह भी कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री के रूप में, नेहरू #सावरकर के ‘‘वैज्ञानिक नजरिये’’ को अपनाकर भारत को विकास के पथ पर ले गए। उन्होंने कहा, ‘‘नहीं तो भारत एक और पाकिस्तान बन जाता… इसके लिए भारत हमेशा नेहरू का ऋणी रहेगा।

About News desk

Check Also

26/11 को लेकर वाशिंगटन में पाकिस्तान दूतावास के बाहर विरोध प्रदर्शन, लगा ये आरोप

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारतीय अमेरिकियों ने अन्य दक्षिण एशियाई देशों के ...