विधान सभा चुनाव के लिए कांग्रेस को नहीं मिलें उम्‍मीदवार

पार्टी को उम्‍मीदवार आवेदन की तिथि 15 दिन तक बढ़ानी पड़ी

प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष ने आवेदन करने की तिथि 10 अक्‍टूबर तक बढ़ाई

जिलाध्‍यक्षों और पदाधिकारियों को चिट्ठी भेज की सहयोग की अपील

लखनऊ। अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही कांग्रेस की उम्‍मीदों को उत्‍तर प्रदेश में बड़ा झटका लगा है। विधान सभा चुनाव में उतरने की तैयारी कर रही पार्टी को उम्‍मीदवारों का टोंटा पड़ गया है । विधान सभा चुनाव के लिए लिए उम्‍मीदवारों के पर्याप्‍त आवेदन न आने के कारण पार्टी को आवेदन की तिथि 15 दिन बढ़ानी पड़ गई । प्रदेश कांग्रेस अध्‍यक्ष अजय कुमार लल्‍लू ने जिलाध्‍यक्षों और पार्टी के पदाधिकारियों को पत्र भेज कर उम्‍मीदवारों के आवेदन की तिथि 10 अक्‍टूबर तक बढ़ाए जाने की जानकारी दी है।

प्रदेश अध्‍यक्ष ने सभी पदाधिकारियों से एकजुट होकर सहयोग करने की अपील की है। कांग्रेस ने उम्‍मीदवारों के आवेदन की अंतिम समय सीमा 25 सितंबर तय की थी। शनिवार को यह समय सीमा समाप्‍त होने के बाद आवेदनपत्रों की गिनती की गई तो पदाधिकारी दंग रह गए। टिकट के लिए आए आवेदन उम्‍मीद से काफी कम थे। आनन फानन में हाईकमान से बातचीत के बाद आवेदन की अंतिम तिथि 10 अक्‍टूबर तक बढ़ाई गई। इसके साथ ही प्रदेश नेतृत्‍व ने अपने पदाधिकारियों से इस अभियान में जुटने की गुहार लगाई है।

गौरतलब है कि अपनी स्थिति सुधारने के लिए कांग्रेस ने सभी 403 विधानसभा सीटों पर अपने दम पर चुनाव लड़ने के संकेत दिए थे। इसके तहत पार्टी ने विधान सभा चुनाव के लिए उम्‍मीदवार खोचने की प्रक्रिया शुरू की थी। लेकिन आवेदन पत्रों की संख्‍या नेतृत्‍व को निराश करने वाली रही। पार्टी के एक पदाधिकारी कहते हैं कि नए नए प्रयोगों से पार्टी को और नुकसान हो रहा है। हालात सुधारने के लिए संगठन को पहले जमीनी स्‍तर पर काम करने की जरूरत है। लोगों के बीच जाने की आवश्‍यकता है। नेतृत्‍व को इस पर ध्‍यान देना होगा।

About Samar Saleel

Check Also

डॉ. आंबेडकर के विचारों पर वर्तमान सरकार का अमल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर की प्रतिष्ठा में सर्वाधिक ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *