Breaking News

तहसील समाधान दिवस पर पहुंचा दिव्यांग बोला …..साहब मैं बिकलांग हूं, पैसे नहीं दे पाया तो पेंशन नहीं बनायी

• 2006 में ऑनलाइन कराई पेंशन भी पैसे न दे पाने की वजह से रिजेक्ट हो गयी

बिधूना। तहसील सभागार में चल रहे तहसील समाधान दिवस में पहुंचे एक दिव्यांग ने शिकायत की कि वह रिश्वत नहीं दे पा रहा तो उसकी दिव्यांग पेंशन नहीं बन रही है। दिव्यांग की शिकायत सुन अधिकारियों ने उसे जल्द दिव्यांग पेंशन दिलाये जाने का भरोसा दिलाया है।

गंभीर नवजातों को एसएनसीयू में मिल रही नई जिंदगी

विकास खंड बिधूना के ग्राम सलेमपुर निवासी दिव्यांग नीरज शंखवार पुत्र धनपत सिंह शंखवार शनिवार को तहसील समाधान दिवस में पहुंचा। जहां उसने समाज कल्याण विभाग कर्मचारियों के खिलाफ लिखित शिकायत देते हुए कहा कि पेंशन बनवाने के नाम पर उससे एक हजार रूपए मांग की मांग कर रहे हैं। कहा कि रूपए न दे पाने के कारण उसका फार्म रिजेक्ट कर दिया जाता है।

दिव्यांग ने कहा कि इससे पहले भी उसने दिव्यांग पेंशन के लिए एक बार ऑनलाइन फार्म भरा था। जो वर्ष 2006 में पैसे न दे पाने के कारण रिजेक्ट हो गया था। कहा कि अब पुनः दिव्यांग पेंशन के लिए फार्म भरा है। विभाग के कर्मचारियों द्वारा उससे पैसे की मांग की जा रही है। कहा कि साहब मैं गरीब हूं कहां से दूं पैसा। दिव्यांग की शिकायत सुनने के बाद अधिकारियों ने उसे भरोसा दिलाया है कि जल्द ही उसकी दिव्यांग पेंशन बनवायी जायेगी।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन

About Samar Saleel

Check Also

माघी पूर्णिमा स्नान पर्व के साथ कल्पवास का संकल्प पूर्ण

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें सौभाग्य सर्वार्थ सिद्धि आयुष्मान के योग से युक्त ...