Breaking News

झाड़-फूंक के चक्कर में न पड़ें मानसिक रूप से अस्वस्थ : डॉ महेश

• मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता गोष्ठी एवं स्वास्थ्य शिविर आयोजित

• मानसिक स्वास्थ्य शिविर में 355 मरीज पहुंचे , 30 मानसिक रूप से अस्वस्थ चिन्हित

कानपुर नगर। मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के तत्वावधान में मंगलवार को मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता गोष्ठी एवं स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। बिधनू ब्लाक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर आयोजित कैंप में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी डॉ. महेश कुमार ने कहा कि मानसिक विकार से ग्रसित व्यक्ति को झाड़-फूंक के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए। उसे मानसिक रोग विशेषज्ञ से सम्पर्क कर इलाज कराना चाहिए। इलाज कराने से ही मानसिक बीमारियों से छुटकारा मिलेगा। शिविर में 30 से अधिक मानसिक विकारों से ग्रसित मरीजों का परीक्षण कर दवाएं और परामर्श दिया गया।

डॉ कुमार ने कहा कि तनाव की स्थिति में रहने या लगातार शराब समेत अन्य नशीले पदार्थ का सेवन करने से इसका सीधा असर मस्तिष्क पर पड़ता है। ऐसे में कोई भी व्यक्ति मानसिक रोग से पीड़ित हो सकता है। उन्होंने शिविर में मानसिक रोग के लक्षण और उससे बचाव के बारे में जानकारी दी। शिविर में गंभीर मानसिक रोग से पीड़ित मरीजों के हाव-भाव, दैनिक गतिविधियों, पारिवारिक वातावरण समेत अन्य गतिविधियों की जानकारी लेने के बाद उनका इलाज किया गया। उन्होंने बताया कि मानसिक रोग से ग्रसित बहुत से लोग इलाज करवाने से कतराते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि लोग उनके बारे में न जाने क्या सोचेंगे। मानसिक रोगों का इलाज किया जा सकता है।

नन्हे-मुन्नों का कराया अन्नप्राशन, माताओं को मिली फाइलेरिया से बचाव की सीख

चिकित्सा अधीक्षक डॉ एसपी यादव ने कहा कि शिविर के माध्यम से लोगों को मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी दी गयी। इसके साथ ही मानसिक रोगियों की पहचान कर उनका निशुल्क इलाज भी किया जा रहा है। शिविर के आयोजन का मुख्य उद्देश्य समाज में यह जागरूकता लाना है कि मानसिक रोग भी अन्य रोगों के ही समान है। नींद न आना, तनाव, घबराहट, जीवन के प्रति निराशा, डर लगना, व्यवहार में अचानक तेजी आना आदि मानसिक रोग की देन हो सकता है। इनका चेकअप कराकर इलाज कराएं।

शिविर में मुख्यालय से आये मनोचिकित्सक डॉ चिरंजीवी प्रसाद, मनोवैज्ञानिक डॉ सुधांशु मिश्रा द्वारा मनोरोगियों को उपचारित किया गया और काउंसिलिंग की गयी। मनोचिकित्सीय सामाजिक कार्यकर्ता संदीप ने बताया कि शिविर में 355 मरीजों की जांच की गई। इसमें 30 मानसिक रोगी चिहिन्त किए गए। इस मौके पर मानसिक स्वास्थ्य विभाग से सुनील कुमार, अकन कुमार, पवन कुमार, अखंड प्रताप सहित बीपीएम ज्योति, बीसीपीएम मिनाक्षी, प्रिया वर्मा, मोहिनी, पवन गुप्ता और स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

मण्डल रेल प्रबन्धक ने गोरखपुर-आनन्दनगर-बढ़नी-गोण्डा रेलखण्ड का विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण किया

लखनऊ। पूर्वाेत्तर रेलवे लखनऊ मण्डल के मण्डल रेल प्रबन्धक आदित्य कुमार ने आज मण्डल के ...