Breaking News

पर्यावरणीय मुद्दों पर तत्काल ध्यान देने की जरूरत – प्रो गीता गांधी किंगडन

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल (CMS) एवं कैनडा उच्चायोग के संयुक्त तत्वावधान में पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन पर आयोजित दो-दिवसीय सेमिनार में आज बतौर मुख्य वक्ता बोलते हुए प्रेसीडेन्ट एवं एमडी प्रो गीता गांधी किंगडन (Prof. Geeta Gandhi Kingdon) ने कहा कि छात्र शक्ति व युवा जोश का सम्मिलित प्रयास ही दुनिया को जलवायु परिवर्तन व पर्यावरण की विषम समस्या से उबार सकता है।

👉आज से शुरू अयोध्या राम मंदिर के गर्भगृह की फर्श का काम, जनाने के लिए पढ़े पूरी खबर

युवा पर्यावरणविद् ग्रेटा थनबर्ग इसकी प्रेरक मिसाल हैं। युवा पीढ़ी की परिवर्तनकारी क्षमता और सकारात्मक बदलाव के उनके प्रयासों को हम स्वयं ही देख रहे हैं। आज की युवा पीढ़ी में दुनिया को बदलने की क्षमता मौजूद है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि यह विचार गोष्ठी किशोरों एवं युवा पीढ़ी को पर्यावरण के प्रति उनके दायित्वों से अवगत कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगी।

प्रो गीता गांधी किंगडन (Prof. Geeta Gandhi Kingdon)

‘शोकेसिंग यूथ-लेड क्लाइमेट एक्शन विषय पर आयोजित पैनल डिस्कशन में बोलते हुए मुख्य अतिथि प्राची गंगवार (डीआईजी फॉरेस्ट) ने कहा कि हमें पर्यावरणीय विषयों पर गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है। इसके साथ ही, छात्रों व युवा पीढ़ी को बदलते पर्यावरण की नवीनतम जानकारियों से अवगत कराने, उन्हें पर्यावरण के प्रति जागरूक करने एवं पर्यावरण संरक्षण में सक्रिय भूमिका निभाने के लिए प्रेरित करने की आवश्यकता है।

👉राहुल गांधी का हैरान कर देने वाला बयान, कहा मुस्लिम लीग पूरी तरह से है ऐसा…

इस अवसर पर सीएमएस के छात्रों ने भी अपने सारगर्भित विचार व्यक्त करते हुए पर्यावरण संरक्षण का अलख जगाया। छात्रों ने एक स्वर से कहा कि मानव जाति के अस्तित्व की सुरक्षा हेतु ईश्वर प्रदत्त धरती के प्राकृतिक संसाधनों का विवेकपूर्ण ढंग से उपयोग तथा पर्यावरण को साफ-सुथरा तथा हरा-भरा बनाये रखना ही हम सभी का परम दायित्व है।

इस दो-दिवसीय सेमिनार में पर्यावरण समेत विभिन्न सामाजिक मुद्दों जैसे महिला सशक्तीकरण एवं लिंग आधारित हिंसा पर भी सारगर्भित विचार-विमर्श हुआ। सेमिनार के अन्तर्गत इम्पॉवरिंग चेन्ज: ट्रान्सफार्मिंग एटीट्यूड्स टु इंड जेन्डर-बेस्ट वायलेन्स एवं स्ट्रेन्थिनिंग वोमेन इन्टरप्रिन्योरशिप इकोसिस्टम एट ग्रासरूट्स इन यूपी विषयों पर गंभीर चर्चा-परिचर्चा सम्पन्न हुई, जिसमें अपर्णा रजत कौशिक (डेप्युटी कमिश्नर ऑफ पुलिस), अलीमा जैदी अली (एसोसिएशन ऑफ एडवोकेसी एण्ड लीगल इनीशिएटिव), डा रूपरेखा वर्मा, पूर्व उप-कुलपति, लखनऊ विश्वविद्यालय, ज्योत्सना कौर हबीबुल्लाह (सीईओ), लखनऊ फामर्स मार्केट एवं इतिश्री मिश्रा, असिस्टेन्ट एडीटर, टाइम्स ऑफ इण्डिया आदि विभिन्न हस्तियों ने अपने विचार व्यक्त किये।

About Samar Saleel

Check Also

पर्यावरण संरक्षा जागरूकता के लिए बस्ती स्टेशन पर रेल कर्मियों ने बोर्ड एवं बैनर के माध्यम से यात्रियों को किया जागरूक

लखनऊ। पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मण्डल में मिशन लाइफ के तहत पर्यावरण को अनुकूल करने हेतु ...