Breaking News

मोदी सरकार में बदहाल हुए किसान: भूपेश सिंह बघेल

लखनऊ। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और उत्तर प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी भूपेश सिंह बघेल ने आज (बुधवार) यहाँ कहा कि भारत के लोग विश्वासघात करने वाले लोगों को कभी माफ नहीं करते। केन्द्र की मोदी सरकार व भाजपा ने देश के किसानों से जो विश्वासघात किया है, उसे कभी माफ नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 28 फरवरी 2016 को बरेली में एक रैली के दौरान किसानों से वादा किया था कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी कर देंगे। किन्तु आय तो दोगुनी हुई नहीं, किसानों कि दर्द सौ गुना जरूर बढ़ गया।

मुख्यमंत्री बघेल कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों को सबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों की औसत आय 27 रुपये प्रतिदिन रह गई है जबकि औसत कर्ज 7400 रुपये प्रति किसान हो गया है। उन्होंने कहा कि भारत के 50 प्रतिशत किसान कर्ज में डूबे हुए हैं। मजबूरी में किसान खेती से दूर होकर मजदूरी करने को मजबूर हैं।

भारत के गरीब-मज़दूर-किसान ने मोदी जी के वायदों पर ऐतबार करके वोट दिया था, पर उन्होंने विश्वासघात किया। मोदी सरकार व भाजपा ने भारत के भाग्यविधाता अन्नदाता किसानों पर आघात किया है। भारत कभी इन्हें माफ़ नहीं करेगा। – भूपेश बघेल 

उन्होंने कहा कि फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) नहीं मिल रहा है। मंहगी खाद बहुत कम मात्रा में मिल रही है। इससे किसान बेहाल हैं। उन्होंने कहा कि अब पशुपालन भी फायदे का सौदा नहीं रह गया है। उत्तर प्रदेश में गायों की बहुत दुर्दशा है। छुट्टा जानवर खेतों को नुकसान पंहुचा रहे हैं।

गौशालाओं में उचित देखभाल के अभाव में गाय मर रही हैं। मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ की तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी गोधन न्याय योजना लागू करने की वकालत की। उन्होंने कहा कि यदि गौवंशों के गोबर का सद्उपयोग कर लिया जाए तो इससे गायों और किसानों की दशा सुधारने में बहुत मदद मिलेगी। उत्तर प्रदेश में भी छत्तीसगढ़ की तरह सरकारी स्तर पर गोबर खरीद की योजना बनाई जानी चाहिए। इससे किसानों को जैविक खाद मिल सकेगी और पशुपालन करने वाले लोग गाय को एक फायदे का सौदा मानते हुए उनकी उचित देखभाल करने के लिए प्रेरित हो सकेंगे। पत्रकार वार्ता में कांग्रेस नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी और सुप्रिया श्रीनेत भी उपस्थित थे। एक सवाल के जवाब में सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि यूपी में कोविड नियमों का पालन करते हुए जनसंपर्क अभियान चलाया जा रहा है।

मोदी सरकार ने तीन काले कानून लाकर 700 किसानों को आत्महत्या के लिए मजबूर किया। उनके सिर फोड़ने के आदेश देकर लहू-लुहान किया गया। किसानों के रास्ते में कील-काँटे बिछाए गए। इससे भी पेट नहीं भरा तो उन्हें लख़ीमपुर-ख़ीरी में देश के गृह राज्यमंत्री की जीप से रौंदकर मार डाला गया। उन्होंने कहा कि लड़कियों का सम्मान करने के साथ कांग्रेस उनके साथ किए गए वादों को पूरा कर रही हैं, हमारी पहली लिस्ट में 40 प्रतिशत महिलाओं को टिकट देना उसी का परिणाम है। – सुप्रिया श्रीनेत 

इस मौके पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव राजेश तिवारी, पूर्व अध्यक्ष उत्तर प्रदेश कांग्रेस निर्मल खत्री, उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी मीडिया विभाग के चेयरमैन नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पूर्व सांसद एवं मंत्री प्रदीप आदित्य जैन, संगठन महासचिव दिनेश सिंह, संयोजक प्रिंट मीडिया व प्रवक्ता अशोक सिंह, संयोजक डिजिटल मीडिया व प्रवक्ता अंशू अवस्थी, प्रदेश प्रवक्ता डॉक्टर उमा शंकर पांडेय, पंकज तिवारी, प्रदीप सिंह, आसिफ रिजवी, विकास श्रीवास्तव, विशाल राजपूत, श्रीमती प्रियंका गुप्ता, श्रीमती रफत फातिमा समेत सैकड़ों पदाधिकारी मौजूद रहे।

    दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

हम नक्सलवाद के सामने घुटने नहीं टेकते, नेस्तनाबूद कर देते हैं- योगी आदित्यनाथ

• योगी आदित्यनाथ ने कोरबा में जनसभा को किया संबोधित • कहा- कांग्रेस का नक्सलवाद ...