Breaking News

आंगनबाड़ी केन्द्रों पर स्वस्थ बालक-बालिका प्रतियोगिता आज, छह मानकों के आधार पर दिए जाएंगे नंबर

कानपुर नगर। आज कल राष्ट्रीय पोषण माह मनाया जा रहा है। 30 सितंबर तक चलने वाले इस माह में पोषण के बारे में जागरूक करने के उद्देश्य से विविध गतिविधियां की जा रही हैं। इसी क्रम में गुरुवार को स्वस्थ बालक-बालिका प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। इसमें बच्चे की मासिक वृद्धि, उसकी साफ-सफाई सहित छह मानकों को परखा जाएगा। इस संबंध में जिला स्तर की बैठक भी हो चुकी है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी दुर्गेश प्रताप सिंह ने बताया कि राज्य पोषण मिशन निदेशक कपिल सिंह की ओर से 22 सितंबर को स्वस्थ बालक-बालिका प्रतियोगिता को आयोजित करने के निर्देश जारी किए गए हैं। यह गतिविधि पोषण माह के अंतर्गत संचालित की जाएगी। कार्यक्रम में जनपद के सभी 2134 आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों का वजन, लम्बाई की ग्रोथ मॉनीटरिंग डिवाइस के जरिए मापकर पोषण ट्रैकर एप पर फीड किया जाना है।

इस स्पर्धा को एक उत्सव के रूप में मनाया जाना है। इससे समुदाय में स्वस्थ एवं पोषण के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धात्मक जागरुकता लाई जा सकेगी। जिले की सभी आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को बच्चों के अभिभावकों को प्रतियोगिता के बारे में जागरूक करने और प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करने को कहा जा चुका है। ग्राम प्रधान व पंचायत सदस्यों के माध्यम से बच्चों के स्वास्थ्य एवं पोषण के महत्व के बारे में जागरूकता लाई जाएगी। बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए स्वास्थ्य विभाग का भी सहयोग लिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री को प्रतियोगिता के समाप्त होने पर बच्चे के स्वास्थ्य की डिटेल जैसे वजन, लंबाई, ऊंचाई की फीडिंग पोषण ट्रैकर पर करनी होगी। स्वस्थ्य बालिक-बालिका स्पर्धा में जो बच्चे स्वस्थ्य व सुपोषित होंगे उन्हें पुरस्कृत भी किया जाना है। पुरस्कार हेतु 50 अंक के मानक निर्धारित किये गये है। बच्चे को पुरस्कृत करने हेतु ग्राम स्तर पर कमेटी गठित की गयी है। कमेटी में कार्यकत्री, पोषण पंचायत के सदस्य, ग्राम सभा के प्रतिनिधि, आशा, स्थानीय शिक्षक को रखा गया है। स्वास्थ्य बालक-बालिका स्पर्धा के पश्चात ग्राम पंचायत स्तर पर आगामी 2 अक्टूबर को पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया जायेगा।

जनपद के आंगनबाड़ी केंद्रों में 0-5 वर्ष के पंजीकृत बच्चे

कुल 1,85,155 बच्चे पंजीकृत
1,75,450 बच्चे सामान्य श्रेणी में
8,040 बच्चे कुपोषित की श्रेणी में
1,665 बच्चे अतिकुपोषित की श्रेणी में

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर 

About Samar Saleel

Check Also

विजय दशमी का संदेश

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें विजय दशमी का महत्व असत्य और अधर्म प्रवृत्ति ...