Breaking News

हिंदी अकादमी का “राष्ट्रीय सम्मान समारोह-2023” मुंबई में संपन्न

हिंदी अकादमी, मुंबई द्वारा मुंबई प्रेस क्लब में आयोजित “राष्ट्रीय गौरव सम्मान समारोह-2023” कार्यक्रम संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में महाराष्ट्र के पूर्व गृह राज्य मंत्री कृपाशंकर सिंह, विशिष्ट अतिथि के रूप में लेफ्टिनेंट कर्नल मनोज कुमार सिन्हा तथा हेमलता शर्मा उपस्थित थे।

हिंदी अकादमी मुंबई के संस्थापक अध्यक्ष डॉ प्रमोद पांडेय ने बताया कि इस कार्यक्रम देश के विभिन्न राज्यों से अपने-अपने क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वाली 18 विभूतियों को क्रमशः हिंदी अकादमी गौरव सम्मान, साहित्य भूषण सम्मान, शिक्षा भूषण सम्मान, हिंदी सेवी सम्मान, पत्रकारिता भूषण सम्मान, कला भूषण सम्मान से सम्मानित किया गया। यह सम्मान इसलिए प्रदान किया गया ताकि अपने -अपने क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने वालों को प्रोत्साहन प्राप्त हो और अधिक ऊर्जा के साथ उस कार्य को आगे बढ़ा सकें।”

नेग्लेक्टेड ट्रॉपिकल डिजीज डे: उपेक्षित नहीं प्राथमिकता वाली बीमारी मानने से पाएंगे पार

यह सम्मान महाराष्ट्र के पूर्व गृह राज्य मंत्री कृपाशंकर सिंह के कर कमलों द्वारा प्रदान किया गया। कृपाशंकर सिंह ने सभी सम्मानित विभूतियों को बधाई देते हुए उपस्थित साहित्यकारों की सराहना की और चंद पंक्तियों में अपनी बातों को रखते हुए कहा कि-मुझे सूली पर चढ़ाने की जरूरत ही क्या है, कलम छीन लो मर जाऊंगा। जिस दिन कलम नहीं होगी, बिना तलवार, बिना बंदूक के वे मर जाएंगे।

हिंदी अकादमी, मुंबई द्वारा निरंतर किए जा रहे सराहनीय कार्यों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने आगे कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों के आयोजन की आज आवश्यकता है, इससे समाज में एकजुटता पैदा होगी और लोग एक दूसरे को तथा उनके कार्यों को जानेंगे और समझेंगे।

कैंसर अवेयरनेस “ड्राइव फॉर लाइफ” : इनरव्हील क्लब्स ऑफ़ लखनऊ की संयुक्त महिला कार रैली

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में लेफ्टिनेंट कर्नल मनोज कुमार सिन्हा ने अपने वक्तव्य के माध्यम से हिंदी अकादमी, मुंबई द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की और सभी सम्मानित जनों को बधाई दी। वित्त विभाग-मध्यप्रदेश की राजपत्रित अधिकारी सुश्री हेमलता शर्मा ने भी अपने वक्तव्य के माध्यम से सभी को हार्दिक बधाई दी तथा कार्यक्रम की प्रशंसा की।

इस सम्मान समारोह में हरीश शर्मा ‘यमदूत’, डॉ. सुनील जाधव, प्रो सविता सिंह, डॉ सागर त्रिपाठी, प्रो बीना बुदकी, डॉ.सचिन गपाट, अख़लाक़ अहमद ज़ई, कृपाशंकर मिश्र, डॉ पसुपुलेटि हरिराम प्रसाद, राजेश कुमार उपाध्याय, सुनील शर्मा, भानु प्रकाश मिश्र, हेमंत कुमार, सारिका मूँदड़ा, डॉ.अर्चना रामजीत दुबे, डॉ कृष्ण कुमार मिश्र, राघवेन्द्र तिवारी तथा अजीत मिश्र को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित मुंबई के सुप्रसिद्ध शायर डॉ सागर त्रिपाठी ने कृपाशंकर सिंह के अनुरोध पर अपनी कुछ पंक्तियां प्रस्तुत कीं। हिंदी अकादमी, मुंबई के संस्थापक अध्यक्ष डॉ प्रमोद पांडेय, कोषाध्यक्ष जितेंद्र तिवारी, युवा सदस्य समीर अहमद, नन्दन मिश्र तथा देश के विभिन्न राज्यों से आए हुए गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

About Samar Saleel

Check Also

उद्धव ठाकरे का कांग्रेस और एनसीपी शरद पवार गुट से हाथ मिलाना है उनका आत्मघाती कदम- डॉ दिनेश शर्मा

• पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के कारण भाजपा कार्यकर्ता कहा जाता है सुपर वारियर ...