Breaking News

अगर India बना ‘भारत’, तो क्या बदल जाएंगे इन जगहों के भी नाम?

देश के राजनीतिक गलियारों में इसके नाम को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। क्या देश का नाम India से हटाकर सिर्फ भारत किया जा रहा है? अगर ऐसा होता है और देश का नाम ‘India’ से बदलकर भारत कर दिया जाता है, तो क्या उन जगहों व ऐतिहासिक भवनों का नाम भी बदल दिया जाएगा जिनके नाम में ‘India’ जुड़ा हुआ है?

इस मुद्दे के पक्ष और विपक्ष में लोग अपना मत दे रहे हैं। कहा तो यहां तक जा रहा है कि संसद का जो विशेष विशेष सत्र बुलाया गया है उसमें नाम को बदलने से संबंधित विधेयक लाया जा सकता है। हालांकि इस बारे में आधिकारिक रूप से अभी तक सरकार का कोई बयान नहीं आया है। ‘India’ की जगह ऐतिहासिक इमारतों, धरोहरों व जगहों के नाम में ‘भारत’ जुड़ने के बाद क्या होगा उनका नया नाम?

आइए जानते हैं –

गेटवे ऑफ इंडिया

साल 1911 में ब्रिटिश सम्राट किंग जॉर्ज पंचम और महारानी मैरी के पहली बार भारत आगमन की याद में मुंबई के दक्षिण में समुद्र तट पर बनाया गया था ‘गेटवे ऑफ India’। इसका निर्माण साल 1924 को पूरा हुआ था। अगर इंडिया का नाम बदलकर भारत कर दिया जाता है तो क्या गेटवे ऑफ इंडिया को ‘गेटवे ऑफ भारत’ के नाम से जाना जाएगा?

इंडिया गेट

नई दिल्ली के कर्तव्यपथ (पूर्व में किंग्सवे) में स्थित ‘India गेट’ मूल रूप से एक भारतीय युद्ध स्मारक है। इसका डिजाइन सर एडवर्ड लुटियन्स ने तैयार किया था। इसे वर्ष 1931 में उन सैनिकों की याद में बनाया गया था जो ब्रिटिश सेना में भर्ती हुए थे और प्रथम विश्व युद्ध व अफगान युद्धों में शहीद हो गये थे। भारत का नाम बदलने की सूरत में क्या ‘India गेट’ को ‘भारत गेट’ का नाम मिलेगा?

इंडियन म्यूजियम

कोलकाता में स्थित इंडियन म्यूजियम भारत की सर्वश्रेष्ठ म्यूजियम है। इसकी स्थापना डॉ. नथानियम वालिक नामक डेनमार्क के वनस्पतिशास्त्री ने किया था। वर्ष 1814 में स्थापित इंडियन म्यूजियम एशिया का सबसे पुराना और भारत का सबसे बड़ा म्यूजियम है। ‘India’ अगर ‘भारत’ बन जाता है तो क्या हम इंडियन म्यूजियम को ‘भारत म्यूजियम’ के नाम से जानेंगे?

नेशनल म्यूजियम ऑफ इंडियन सिनेमा

भारतीय सिनेमा के पिछले 100 सालों के सफर और उसके विकास की कहानी को बयां करते हुए मुंबई में वर्ष 2019 में तैयार किया गया था, नेशनल म्यूजियम ऑफ इंडियन सिनेमा। इसका उद्धाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। लेकिन India का नाम ‘भारत’ कर देने की स्थिति में क्या दूसरी ऐतिहासिक धरोहरों की तरह ही नेशनल म्यूजियम ऑफ इंडियन सिनेमा का नाम बदलकर ‘नेशनल म्यूजियम ऑफ भारतीय सिनेमा’ हो जाएगा!

इंडियन कॉफी हाउस

यह कोई ऐतिहासिक इमारत नहीं लेकिन इसके साथ भारत के कई शहर जुड़े हुए हैं। कोलकाता, बैंगलोर और ना जाने कितनी भारतीय शहरों में ऐतिहासिक इंडियन कॉफी हाउस मौजूद है। इंडियन कॉफी हाउस से लोगों का भावनात्मक लगाव जुड़ा होता है। अगर देश का नाम बदल जाने की वजह से ‘Indian’ कॉफी हाउस ‘भारतीय कॉफी हाउस’ बन जाता है, तो क्या लोग इससे भावनात्मक रूप से उतना ही लगाव महसूस करेंगे, जितना अभी करते है?

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया

भारतीय अर्थव्यवस्था की नींव और करोड़ों भारतीयों की जीवन भर की कमाई को सुरक्षित रखने का जरिया। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया या RBI का नाम ही भरोसे का प्रतिक बन गया है। संसद में नयी विधेयक पेश कर अगर भारत सरकार देश का नाम सिर्फ ‘भारत’ कर देती है तो क्या आम लोगों के भरोसे की रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया का भी मेकओवर होगा और यह भी ‘रिजर्व बैंक ऑफ भारत’ कहलाने लगेगी? क्या इसके नाम का बदला हुआ अवतार आम लोगों के भरोसे को बनाए रखने में कायम रहेगा?

About News Desk (P)

Check Also

‘रणनीतिक स्वायत्तता’ के मुद्दे पर भारत का अमेरिका को जवाब, कहा- हमारी भी अपनी अलग सोच है

नई दिल्ली:  हाल ही में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस का दौरा किया ...