Breaking News

अगर आप भी ब्लीचिंग के बाद होने वाली परेशानियों से बचना चाहते है तो ,रखे इन बातो का रखे खास ख्याल

दाग -धब्बे रहित त्वचा आपकी सुंदरता और आत्मविश्वास को बढ़ाती है। जिसके लिए महिलाएं समय-समय पर घरेलू नुस्खों से ब्यूटी ट्रीटमेंट लेती हैं, जिनमें से एक है ब्लीचिंग।

जिसका उपयोग चेहरे के दाग-धब्बे, झाइयां, टैनिंग और सांवली त्वचा को हल्का करने के लिए किया जाता है। अगर आप भी ब्लीचिंग करवाने की सोच रही हैं या कराना चाहती हैं तो इसे करने से पहले और बाद की सावधानियों के बारे में जानना बहुत जरूरी है। आज का आर्टिकल इसी पर है.

ब्लीच करने से पहले
– ब्लीच लेने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि वह अमोनिया मुक्त हो।

ब्लीच खरीदते समय आपको अपनी त्वचा का ध्यान रखना चाहिए। तैलीय से लेकर शुष्क त्वचा के लिए अलग-अलग ब्लीच होते हैं।

-ब्लीच का इस्तेमाल करने से पहले उसका पैच टेस्ट कर लें। अगर कोई परेशानी न हो तो इसे चेहरे पर इस्तेमाल करें।

-धूप से निकलने के तुरंत बाद ब्लीच करने की गलती कभी न करें।

– ब्लीच लगाते समय पैक पर दिए गए निर्देशों का पालन करें।

ब्लीच करने के बाद
– 5 से 10 मिनट तक ब्लीच लगाने के बाद चेहरे को कॉटन या हल्के गीले सूती कपड़े से पोंछ लें।

– इसके बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लें.

-ध्यान रखें कि ब्लीच करने के बाद फेसवॉश या स्क्रबिंग न करें।

– अगर ब्लीच के बाद कोई क्रीम हो तो उसे लगाएं।

आवश्यक सावधानियां
– अगर चेहरे पर पिंपल्स हैं तो ब्लीच न करें, क्योंकि इससे चेहरे पर जलन हो सकती है।

– महीने में एक बार से ज्यादा ब्लीच न करें।

– एक्टिवेटर की मात्रा निर्देशों में लिखी मात्रा ही मिलाएं, नहीं तो जलन हो सकती है।

-ब्लीच करने के बाद कभी भी अपने चेहरे को गर्म पानी से न धोएं।

– ऐसा मत सोचिए कि लंबे समय तक ब्लीच लगाने से त्वचा को ज्यादा फायदा होगा क्योंकि इससे त्वचा को कई तरह के नुकसान हो सकते हैं।

-ब्लीच का प्रयोग हमेशा रात के समय ही करें।

About News Desk (P)

Check Also

हार्ट-डायबिटीज वालों को इस नट से मिल सकता है लाभ, कोलेस्ट्रॉल-शुगर कंट्रोल रखने में फायदेमंद

सूखे मेवे-नट्स को सेहत के लिए कई प्रकार से लाभकारी माना जाता है। अध्ययनकर्ताओं ने ...