चीन के साथ 1962 के युद्ध के बाद इस वजह से की गई थी ITBP की स्थापना, जानिए पूरी कहानी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के स्थापना दिवस पर रविवार को बल के कर्मियों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि जब भी देश को उनकी जरूरत पड़ी उन्होंने अदम्य साहस व समर्पण के साथ जवाब दिया. ITBP की स्थापना चीन के साथ 1962 के युद्ध के बाद की गई थी और इसमें करीब 90,000 जवान हैं.

पीएम मोदी ने आईटीबीपी के 60वें स्थापना दिवस पर ट्वीट कर कहा, ”अरूणाचल प्रदेश के घने जंगलों से लेकर हिमालय की बफीर्ली चोटियों तक हमारे आईटीबीपी के हिमवीरों ने देश के आह्वान पर अदम्य साहस व समर्पण दिखाया है.” बल के कर्मियों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा,”आपदा के समय बल की ओर से किए गए मानवीय कार्य सराहनीय हैं.”

पीएम ने कहा कि अपनी रचनाओं के जरिए उन्होंने तत्कालीन सामाजिक व राजनीतिक सच्चाई को सुंदरता से प्रस्तुत किया.प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, ”आर के लक्ष्मण की 100वीं जयंती पर मैं उन्हें याद कर रहा हूं.अपने कार्टूनों के जरिए उन्होंने तत्कालीन सामाजिक व राजनीतिक सच्चाई को सुंदरता से प्रस्तुत किया.”

 

 

About News Room lko

Check Also

3 दिसंबर को ‘थॉट लीडरशिप फोरम’ इन्फिनिटी मंच का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, ऐसा रहेगा पूरा कार्यक्रम

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *