Breaking News

पूर्वाेत्तर रेलवे ने वित्तीय वर्ष 2023-24 में 1847.12 करोड़ की सकल आय अर्जित कर बनाया कीर्तिमान

लखनऊ। पूर्वाेत्तर रेलवे, लखनऊ मंडल ने वित्तीय वर्ष 2023-24 में रु. 1847.12 करोड़ की सकल आय अर्जित कर सर्वकालिक कीर्तिमान स्थापित किया है। उल्लेखनीय है कि मंडल रेल प्रबंधक आदित्य कुमार के कुशल मार्ग दर्शन में लखनऊ मंडल अपने सम्मानित रेल यात्रियों एवं रेल उपयोगकर्त्ताओं को संरक्षित, सुरक्षित, समयबद्ध, उन्नत एवं आरामदायक रेल परिवहन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सतत् प्रयत्नशील है।

पूर्वोत्तर रेलवे: लखनऊ मण्डल के 34 सेवानिवृत रेल कर्मचारियों को दी गई भावभीनी विदाई

मंडल द्वारा सेवित क्षे़त्रों के रेल यात्रियों एवं रेल उपयोगकर्ताओं के बीच रेल परिवहन सुविधा के प्रति विश्वास सुदृढ़ हुआ है। उपरोक्त उपलब्धि इसी का प्रतिफल है। यात्रियों को बेहतर रेल यात्रा सुविधा उपलब्ध कराये जाने के फलस्वरूप यात्री संख्या में आशातीत वृद्धि दर्ज की गई है। यात्री यातायात से प्राप्त होने वाली आय में भी भारी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। वर्ष 2023-24 में यात्री यातायात से प्राप्त होने वाली आय रु. 1371 करोड़ दर्ज की गई, जो कि वार्षिक लक्ष्य से 7.84 प्रतिशत तथा पिछले वर्ष की तुलना में 13.15 प्रतिशत अधिक है।

पूर्वाेत्तर रेलवे ने वित्तीय वर्ष 2023-24 में 1847.12 करोड़ की सकल आय अर्जित कर बनाया कीर्तिमान

माल यातायात से प्राप्त आय रु. 261.54 करोड़ दर्ज की गई, जोकि वार्षिक लक्ष्य से 34.84 प्रतिशत तथा पिछले वर्ष की तुलना में 45.09 प्रतिशत अधिक है। अन्य कोचिंग आय से प्राप्त आय रु. 187.28 करोड़ दर्ज की गई, जोकि पिछले वर्ष की तुलना में 2.03 प्रतिशत अधिक है। वाणिज्य विविध आय से प्राप्त आय रु. 27.66 करोड़ दर्ज की गई, जोकि वार्षिक लक्ष्य से 14.48 प्रतिशत तथा पिछले वर्ष की तुलना में 19.37 प्रतिशत अधिक है।

अन्य प्रमुख उपलब्धियां

इस वित्तीय वर्ष में माल लदान के क्षेत्र में कुल 2.1599 मैट्रिक टन माल लदान किया गया जोकि पिछले वर्ष की तुलना में 54 प्रतिशत अधिक है। इस वित्तीय वर्ष में 1507 लॉंगहाल गुड्स ट्रेन का संचालन किया गया जोकि पिछले वर्ष की तुलना में 19 प्रतिशत अधिक है। मण्डल में सर्वप्रथम कारपोरेट सोशल रिस्पॉसबिलटी (CSR) के अन्तर्गत माल यातायात को बढ़ावा देने के लिए फरधान रेलवे स्टेशन पर गुड्स शेड खोला गया।

संरक्षित रेल संचलन में योगदान प्रदान करने के लिए 13 कर्मचारियों को किया गया सम्मानित

गोरखपुर स्थित ’मैकेनाइज्ड लॉन्ड्री’ में लिनेन की सफाई में गुणात्मक सुधार हेतु लॉन्ड्री में वर्तमान में लॉन्ड्री की कपड़े धोने की क्षमता 9 टन से बढ़ाकर 29 टन हो गई है तथा लखनऊ जं0 स्थित ’मैकेनाइज्ड लॉन्ड्री’ की क्षमता 3.6 टन से बढ़ाकर 11.5 टन हो गई है।
इस वित्तीय वर्ष 2023-24 में 8615 मैट्रिक टन का स्कै्रप डिस्पोजल किया गया जोकि वार्षिक लक्ष्य से (7500 मैट्रिक टन) 14.87 प्रतिशत अधिक है। लखनऊ मण्डल में संरक्षा के क्षेत्र में सभी विभागों द्वारा समन्वय स्थापित करते इस वित्तीय वर्ष 2023-24 में कोई भी परिणामी दुघर्टना घटित नही हुई तथा (SPAD) ’स्पेड’ की घटना भी शून्य रही।

रिपोर्ट-दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

अरविंद केजरीवाल की बढ़ी न्यायिक हिरासत, सात मई को होगी अगली सुनवाई

दिल्ली शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अरविंद केजरीवाल की न्यायिक हिरासत सात ...