Breaking News

गुरुनानक देव गुरुद्वारा के अध्यक्ष के जन्मदिन पर उनके दीर्घायु होने की की गयी कामना

लखनऊ। गुरुद्वारा प्रबन्धक कमेटी एवम् ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री गुरू नानक देव जी, नाका हिंडोला के अध्यक्ष स.राजेन्द्र सिंह बग्गा के 82वें जन्म दिन पर गुरुद्वारा नाका हिंडोला में ज्योति मक्कड़ के निर्देशन में सिमरन साधना परिवार के बच्चों ने अमृत वेला नाम सिमरन कर एवम् गुरुद्वारा साहिब के मुख्य ग्रंथी ज्ञानी सुखदेव सिंह ने अरदास कर सेवा व सद्भाव की प्रतिमूर्ति स.राजेन्द्र सिंह बग्गा की दीर्घायु की कामना की।

गुरुनानक देव गुरुद्वारा के अध्यक्ष के जन्मदिन पर उनके दीर्घायु होने की की गयी कामना

स.राजेन्द्र सिंह बग्गा ने “मेरा मुझ में कुछ नहीं जो किछ है सो तेरा” के उपदेशों के अनुसार परम पिता परमेश्वर का शुक्रिया अदा किया। अपना 82वां जन्म दिन मना रहे श्री बग्गा जी का जीवन वास्तव में किसी खुली किताब से कम नहीं है। विगत 40 वर्षों से अधिक से उम्र के 82 वे वर्ष में भी सर्वधर्म सद्भाव एवं जन सेवार्थ कार्यों के हर मंच पर आपकी उपस्थिति ही न केवल आपकी पहचान है बल्कि सभी के लिए एक प्रेरणा रहती है।

श्री बग्गा का मानना है कि “तुम गरीबों की सुनो वो तुम्हारी सुनेगा”। यही कारण है कि चाहे वह देश का स्वच्छता अभियान, वृक्षारोपण अभियान हो या फिर कोरोना महामारी का भयावह दौर रहा हो, उन्होंने अपनी उम्र व स्वास्थ्य की परवाह किए बिना गरीबों एवं जरूरतमंदों की लंगर वितरण के माध्यम से सेवा की। इस दौरान वे स्वयं भी कोरोना वायरस की चपेट में आए लेकिन स्वस्थ होने के तुरंत बाद पुन:सेवा कार्य में लगकर निस्वार्थ सेवा का उदाहरण प्रस्तुत किया। श्री बग्गा का मानना है कि लोगों की दुआओं एवम् उनके स्नेह के कारण ही जीवन के हर मुश्किल क्षण में परमपिता स्वयं उनकी रक्षा करते हैं।

यह सभी की दुआओं का ही असर था कि उन्होंने लगभग 19 वर्ष पहले कैंसर को भी मात दी एवम् निरंतर जनसेवा के कार्य में लगे हैं। उन्होंने कहा कि जरूरतमंदों की सेवा कर उन्हें आंतरिक खुशी मिलती है। श्री बग्गा का कहना है कि “क्या करेगा प्यार वो भगवान को, क्या करेगा प्यार वो इंसान को, जन्म लेकर गोद में इंसान की, कर न सका प्यार जो इंसान को ” यही कारण है कि आज भी सर्वधर्म, समभाव एवम् सामाजिक कार्यों के क्षेत्र में आप सभी के लिए एक प्रेरणा हैं।

उन्होंने लॉयंस क्लब के अध्यक्ष पद पर रहते हुए एक हजार से अधिक गरीब व निराश्रितों का निःशुल्क मोतियाबिंद का ऑपरेशन कराकर, लखनऊ गुरुद्वारा प्रबन्धक कमेटी एवम् ऐतिहासिक गुरुद्वारा श्री गुरू नानक देव जी नाका हिंडोला के अध्यक्ष पद परअपनी जिम्मेदारी को निभाते हुए कोरोना कालखंड में लंगर वितरण में सहयोग कर एवम् उसके बाद विगत 14 जून 2021 से गुरुद्वारा नाका हिंडोला में वैक्सीनेशन कैंप लगवाकर “मानस की जात सभै एक: पहचानबो ” का संदेश दिया। गुरुद्वारा साहिब में वैक्सीनेशन कैंप आज भी जारी है।

यहां अब तक एक लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की डोज लग चुकी है एवम् वर्तमान में बूस्टर डोज भी लगाई जा रही है। श्री बग्गा जी ने इसका श्रेय गुरुद्वारा पदाधिकारियों के टीम वर्क को दिया है। आपके सार्वजनिक जीवन की उत्कृष्ठ उपलब्धियों, कृतित्व, व्यक्तित्व, सामाजिक सहकार, प्रेरणा, प्रबोधन व योगदान को अनुकरणीय मानते हुए तत्कालीन राज्यपाल राम नाईक ने 2016 में आपको गोल्डन एज अवार्ड से अलंकृत कर न केवल आपको सम्मानित किया बल्कि आपके द्वारा राजकीय बालग्रहों और बृद्धा आश्रमों में कराए गए लंगर वितरण की भी सराहना की थी।

विगत 27 वर्षों से ऐतिहासिक गुरुद्वारा नाका हिंडोला एवं 25 वर्षों से लखनऊ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष पद पर तथा 22 वर्षों से चारबाग स्थित खालसा इंटर कॉलेज के प्रबन्धक पद पर सुशोभित होकर जन सेवार्थ कार्यों में लगे हैं। श्री बग्गा जी ने युवाओं को निस्वार्थ सेवा कार्य करने, मेहनत करने व ईमानदारी के पथ पर चलने का संदेश दिया।

रिपोर्ट – दया शंकर चौधरी

About reporter

Check Also

40 लाख कीमत के रिफायन्ड को फिरोजाबाद में बेचने की कोशिश में चार गिरफ्तार

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फिरोजाबाद। गुजरात के सूरत से लुधियाना ले जा ...