Breaking News

अज्ञात शवों की कब्रगाह बन रहा रायबरेली, चालू माह के हर तीसरे दिन मिला अज्ञात शव….संशय में पुलिस असमंजस में कानून!

रायबरेली। जिले में सिलसिलेवार मिल रहे अज्ञात चोरों ने पुलिस और कानून दोनों को संशय में डाल रखा है। पुलिस के लिए परेशानी का सबब बने यह अज्ञात शव क्षेत्र में दहशत व भय का माहौल भी बना रहे हैं। शवों की शिनाख्त के लिए पुलिस को तमाम पापड़ बेलने पड़ते हैं। आखिर अज्ञात शवों का कब्रगाह रायबरेली ही क्यों बनता जा रहा है यह अपने आप में एक बड़ा सवाल है।

चालू नवंबर माह में जिले में क्राइम कंट्रोल पर पुलिस की ढीली पकड़ का नतीजा रहा कि हर तीसरे दिन मिले अज्ञात शव पुलिस और कानून दोनों के लिए परेशानियों का कारण बने। दूसरी ओर सिलसिलेवार मिले शवों से क्षेत्रीय लोगों में भय और दहशत का माहौल बना रहा। अज्ञात शवों की शिनाख्त के लिए पुलिस को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ा।

हालांकि काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने #शव की शिनाख्त में कामयाबी हासिल की। नवंबर माह की 1 तारीख को लालगंज थाना क्षेत्र के उत्तरा गौरी में घर के अंदर एक महिला का शव मिला। 4 नवंबर को सरेनी कोतवाली किसी गांव के जंगल में एक युवक का शव मिला। 5 नवंबर को जगतपुर कोतवाली क्षेत्र में महिला का शव कुएं में मिला और 6 नवंबर को लालगंज थाना क्षेत्र के बालेश्वर मंदिर परिसर के तालाब में दीपक नाम के युवक का शव मिला जो डलमऊ कोतवाली क्षेत्र के राधा बालमपुर का रहने वाला है।

अन्य खबर –शहीद स्मारक के हाल में बार बालाओं ने लगाए ठुमके, जिम्मेदार मौन

10 नवंबर को लालगंज में रेलवे ट्रैक पर एक युवक का शव मिला वही 12 नवंबर को महाराजगंज कोतवाली क्षेत्र में कहासुनी के बाद घर से निकले युवक का शव कुएं से बरामद किया गया। बीते दिन हरचंदपुर थाना क्षेत्र के जोहवासरकी में एक वृद्ध का शव बरामद किया गया पुलिस द्वारा बताया जा रहा है कि यह व्यक्ति मानसिक रूप से विक्षिप्त था। सिलसिलेवार मिले इन शवों ने कानून व्यवस्था को कठघरे में लाकर खड़ा कर दिया।

हत्याओं का भी जारी है दौर

जिले में जहां अज्ञात शव के मिलने की चर्चाएं गरम रही वहीं दूसरी ओर माह के बीते 22 दिनों में दोनों संस्थाओं ने पुलिस की सुस्ती और फुर्ती को कठघरे में लाकर खड़ा कर दिया है। चालू माह के हर 11वें दिन हुई हत्या पुलिस के लिए चुनौती बनी रही। ज्ञातव्य है 4 नवंबर को डलमऊ कोतवाली क्षेत्र के रसूलपुर गांव में 12 वर्षीय मासूम का शव एक तांत्रिक के घर में बोरी में भरा हुआ पाया गया था और वहीं दूसरी घटना 19 नवंबर को शहर कोतवाली क्षेत्र के इंदिरा नगर में पैसों के लालच में रिटायर्ड आंगनवाड़ी सुपरवाइजर 65 वर्षीय स्नेह कुमारी शुक्ला की दिनदहाड़े #हत्या कर दी गई। हालांकि पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी कि सख्त हिदायत के बाद दोनों थानों की पुलिस हरकत में आई और टीमें गठित कर दोनों घटनाओं का वर्कआउट करके संबंधित आरोपियों को जेल भेज दिया गया।

रिपोर्ट-हर्षित द्विवेदी

About Samar Saleel

Check Also

नेग्लेक्टेड ट्रॉपिकल डिजीज डे: समुदाय में जागरूकता लाएं, उपेक्षित बीमारियों पर काबू पाएं

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें • इन बीमारियों के उन्मूलन के प्रति विश्व ...