Breaking News

काशी में परम्परागत तरीके से मनाया गया रंगभरी एकादशी

• बाबा के गौने के मौके पर काशीवासियों ने जम कर खेला होली

• रंगभरी एकादशी से वाराणसी में होली की शुरुआत

वाराणसी। काशी में महाशिवरात्रि पर महादेव पार्वती के विवाहोत्सव से शुरू हुई रौनक रंगभरी एकादशी पर भी दिखाई दी। पहला मौका है जब रंगभरी एकादशी के दिन माँ पार्वती भोलेनाथ के साथ स्वर्णमंडित गर्भगृह में प्रवेश की।

रंगभरी एकादशी

भगवान भोलेनाथ माता गौरा की चल प्रतिमा महंत आवास से जैसे ही निकली भक्त उनका स्वागत रंग अबीर गुलाल से करते हुए दिखाई दिए तो दूसरी ओर पूरी काशी डमरुओ के थाप और हर-हर महादेव के नारों से गुंजायमान रहा।

रंगभरी एकादशी

इस खास मौके पर महादेव के भक्त भी भारी संख्या में दर्शन करने के लिए काशी में उमड़ हुए दिखाई दिए। मान्यता है कि महाशिवरात्रि पर शिव और पार्वती का विवाह हुआ था और रंगभरी एकादशी के दिन बाबा विश्वनाथ पार्वती का गौना करा के शिवधाम लौटे थे।

रिपोर्ट-संजय गुप्ता 

About Samar Saleel

Check Also

विधानसौध में हंगामा, विपक्षी नेता ने की पाकिस्तान समर्थक नारे लगाने वालों की गिरफ्तारी की मांग

कर्नाटक राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार की जीत के बाद पाकिस्तान समर्थक नारे लगने का ...