Breaking News

वैक्सिनेशन में शिक्षण संस्थानों की भूमिका

डॉ. दिलीप अग्निहोत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ज्योतिबा फुले जयन्ती से लेकर डॉ आंबेडकर की जयन्ती तक टीका उत्सव मनाए जाने की बात कही थी। उत्तर प्रदेश सरकार ने इसके लिए तैयारी भी शुरू कर दी है। राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ने भी शिक्षण संस्थानों से इसमें सहयोग का आह्वान किया है। इसके पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को टीका उत्सव का सफल आयोजन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए थे।

इसके अनुरूप कार्ययोजना बनाकर ज्यादा से ज्यादा लोगों का कोविड टीकाकरण कराया जाएगा। योगी आदित्यनाथ स्वयं वेबिनार के माध्यम से समस्त नगर निगमों के महापौर एवं पार्षदों के साथ कोविड टीकाकरण के सम्बन्ध में संवाद करेंगे। इसके लिए तैयारी की जा रही है। इसके अलावा कोविड टीकाकरण के सम्बन्ध में राज्यपाल की राजनैतिक दलों के नेताओं के साथ बैठक प्रस्तावित है। इसकी व्यवस्था के भी मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए।

जागरूकता व जिम्मेदारी

आनन्दी बेन पटेल ने कहा कि विश्वविद्यालय तथा उनसे संबंध महाविद्यालय टीकाकरण केन्द्रों के संबंध में लोगों को बताएं ताकि लोग टीकाकरण केन्द्रों पर आसानी से पहुंच सकें। यह कार्य महाविद्यालय अपने छात्रों को भी कहकर टोली बनाकर आसानी से बना सके।

राज्यपाल ने प्रदेश के समस्त विश्वविद्यालय के कुलपतियों तथा कुलसचिवों से ऑनलाइन संवाद किया। इसमें 11 से 14 अप्रैल 2021 तक उत्सव के रूप में होने वाले कोरोना टीकाकरण अभियान सफल बनाने के संबंध में विचार विमर्श किया गया। इस अवसर पर उन्होंने निर्देश दिये कि टीकाकरण के इस महा अभियान को सफल बनाने हेतु प्रत्येक विश्वविद्यालय एक कार्य योजना बनाकर कार्य करें तथा इस कार्य में विश्वविद्यालय के छात्रों, जनप्रतिनिधियों स्वयं सेवी संस्थाओं को जोड़कर जन सामान्य को प्रेरित करें।

राजभवन को रिपोर्ट

आनन्दी बेन ने कहा कि वैक्सीनेशन के इस महाअभियान में अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण कराया जाना है। अतः कुलपति व रजिस्ट्रार इस कार्य को पूरी गम्भीरता से लें तथा प्रतिदिन विश्वविद्यालय द्वारा कराये गये टीकाकरण की रिपोर्ट राजभवन को भेजें। राज्यपाल ने प्रथम दौर के कोविड की चर्चा करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश ने बहुत ही अच्छे तरीके से कोविड पर नियंत्रण किया था। लेकिन बाद में सभी ने एहतियाती उपाय कम कर दिये, जिसका गंभीर परिणाम आज हमारे सामने है।

अतः सभी को कोरोनो से बचाव के उपाय मास्क, सामाजिक दूरी, सेनेटाइजेशन आदि का उपयोग करने के लिए अवश्य प्रेरित करें। यह कार्य हमारे विद्यार्थी बहुत ही अच्छे ढंग से कर सकते हैं। अतः विद्यार्थियों को टोली बनाकर उन्हें इस अभियान में शामिल करें। आज बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हो रहे हैं। अतः लोगों को जीवन बचाने के लिए जरूरी है कि टीकाकरण कराया जाये,जिससे कोरोना के दुष्प्रभाव से बचाव हो सके।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

औरैया में 152 ने जीती कोरोना जंग, दो की मौत

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें औरैया। जिले में शनि को दो और संक्रमितों ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *