Breaking News

LU : विधि संकाय में आयोजित हुई ध्यान द्वारा व्यक्तित्व विकास एवं तनाव प्रबंधन पर सहजयोग की कार्यशाला

आज की भागदौड़ युक्त जीवन शैली में स्वयं को मानसिक, शारीरिक एवं भावनात्मक रूप से स्वस्थ रखना अति आवश्यक है। छात्र जीवन की समस्त समस्याएं जैसे…..

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय के नवीन परिसर स्थित विधि संकाय में सहजयोग उत्तर प्रदेश की लखनऊ टीम द्वारा संकाय की मूट कोर्ट कमेटी के सहयोग से व्यक्तित्व विकास एवं तनाव प्रबंधन विषय पर कार्यक्रम नवीन परिसर स्थित एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक के ज्यूरिस हॉल मे आयोजित कराया गया।

विधि संकाय में आयोजित ध्यान द्वारा व्यक्तित्व विकास एवं तनाव प्रबंधन पर सहजयोग की कार्यशाला

कार्यशाला में संकाय के विभागाध्यक्ष एवं संकाय अध्यक्ष प्रोफेसर सीपी सिंह , मूट कोर्ट कमेटी की शिक्षिका संचालिका प्रोफेसर विनीता काचर, प्रोफेसर बीडी सिंह, प्रोफेसर आर के सिंह एवं सहज परिवार लखनऊ के अनेक सदस्य मौजूद रहे।

लेफ्टिनेंट कर्नल विनोद कुमार ने छात्रों को तनाव मुक्ति पर विशेष जानकारियां दीं।

कार्यशाला के वक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल विनोद कुमार ने छात्रों को सहजयोग द्वारा ध्यान एवं तनाव मुक्ति पर विशेष जानकारियां दीं। आज की भागदौड़ युक्त जीवन शैली में स्वयं को मानसिक, शारीरिक एवं भावनात्मक रूप से स्वस्थ रखना अति आवश्यक है। छात्र जीवन की समस्त समस्याएं जैसे कि पढ़ाई में ध्यान ना लगना, चित्त बिखरा रहना , मन में अशांति होना, अत्यधिक गुस्सा इत्यादि समस्याओं का समाधान सहजयोग ध्यान के माध्यम से किया जा सकता है। इस सत्र में छात्रों को आत्मसाक्षात्कार एवं ध्यान की अनुभूति करा कर शांति एवं आनंद का अनुभव कराया गया। कार्यशाला में ध्यान से स्वयं के व्यक्तिगत विकास एवं आंतरिक उत्क्रांति हेतु उपयोगी जानकारी दी गई।

छात्रों को आत्मसाक्षात्कार एवं ध्यान की अनुभूति करा कर शांति एवं आनंद का अनुभव कराया गया।

सहजयोग की स्थापना 1970 में माताजी निर्मला देवी द्वारा हुई थी। श्री माताजी द्वारा बताई गई सहज योग ध्यान प्रणाली से छात्रों को ध्यान कराया गया, छात्रों को बहुत अच्छी अनुभूति हुई।

About reporter

Check Also

फटी एड़ियों की समस्या से छुटकारा पाना हैं तो 10 मिनट हल्के गर्म पानी से करें वाश

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें आज हम आपके साथ शेयर करने जा रहे ...