Breaking News

श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का हुआ शुभारंभ, ढोल व बैंड बाजे के साथ मुख्य मार्गो से निकली कलश यात्रा

• चार अप्रैल तक अनवरत होगा कथा का आयोजन

बछरावां/रायबरेली। कस्बे के रामपुर मजरे शेखपुर समोधा गांव में श्रीमद् भागवत कथा का कलश यात्रा के साथ शुभारंभ हुआ। गांव में बैंडबाजो के साथ भव्य कलश यात्रा निकाली गई।

👉यूपी : सुरंग बनाकर सर्राफ की दुकान में चोरी, धरने पर बैठे गुस्साए व्यापारी

कलश यात्रा गांव के मुख्य मार्गों से गुजरती हुई पुनः कार्यक्रम स्थल पहुंची। जहां कथा व्यास बलराम गोस्वामी शास्त्री ‘कृष्ण जी’ ने भागवत की पूजा अर्चना की और पूजन के बाद कलश की स्थापना की गई। इस मौके पर कथा व्यास कृष्ण जी ने अपने प्रवचनों से उपस्थित श्रद्धालुओं को श्रीमद्भागवत पुराण की जानकारी देते हुए कहा कि श्रीमद्भगवत कथा का श्रवण करने से मानव जीवन में एक जन्म नहीं अपितु हमारे कई जन्मों के पापों का नाश होने के साथ ही हमारे शुभ कर्मों का उदय होता है।

श्रीमद् भागवत कथा

इसको सुनने मात्र से जीव जन्म और मरण के बंधन से मुक्त हो जाता है। उन्होंने कहा कि नारद जी ने भक्ति देवी के कष्ट की निवृत्ति के लिए श्रीमद् भागवत कथा का साप्ताहिक अनुष्ठान किया था। जहां संतकुमारों ने भागवत का प्रवचन करते हुए नारद के मन का संशय दूर किया। कथा व्यास ने कहा कि भगवत श्रवण से जीव के सभी पाप कर्म मिट जाते हैं। अंत में सामूहिक आरती और प्रसाद वितरण किया गया।

👉प्रयागराज की कोर्ट ने अतीक अहमद को सुनाई उम्रकैद की सजा, जानिए UP की सियासत पर क्या होगा असर

यजमान रामललि शुक्ला, रामेश्वर नाथ, गंगोत्री प्रसाद, अवधेश कुमार ने बताया की कथा चार अप्रैल तक चलेगी। उन्होंने आए हुए श्रद्धालुओ का आभार भी जताया। मौके पर कार्यक्रम आयोजक पंकज शुक्ला, ईश्वर दत्त शुक्ला, आशुतोष, आकाश, आलोक सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-दुर्गेश मिश्रा

About Samar Saleel

Check Also

आज का राशिफल: 12 जून 2024

मेष राशि:  आज का दिन आपके लिए कला कौशल में सुधार लेकर आएगा। आपकी सुख ...