तमिलनाडु : डीएमके विधायक अंबाजगन का कोरोना वायरस से निधन

डीएमके विधायक जे अंबाजगन का कोविड-19 के चलते बुधवार को यहां के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया है, संयोगवश आज ही उनका जन्मदिन भी था। पार्टी के पदाधिकारियों ने इस हादसे की सूचना दी। डॉ.रेला इंस्टीट्यूट एंड मेडिकल सेंटर नामक यहां के निजी अस्पताल में 62 वर्षीय अंबाजगन का इलाज चल रहा था। उनकी हालत बेहद नाजुक थी।

तमिलनाडु विधानसभा में चेपक-थिरुवल्लिकेनी विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले अंबाजगन पहले ऐसे तमिल विधायक हैं, जो कोरोनोवायरस से संक्रमित हुए व जिनकी इसके चलते मौत हो गई। उन्हें 2 जून को तीव्र श्वसन संकट सिंड्रोम के साथ अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उसी वक्त उनका कोविड पीसीआर जांच का परिणाम पॉजिटिव आया था।

अस्पताल ने पहले कहा था, “शुरुआत में उन्हें फेस मास्क के माध्यम से ऑक्सीजन थेरेपी के सहारे रखा गया था, हालांकि बाद में सांस की तकलीफ और भी ज्यादा बढ़ जाने पर उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था।”

Loading...

अस्पताल की ओर से इस बात की भी जानकारी दी गई कि बाद में स्थिति में सुधार आने पर उन्हें धीरे-धीरे वेंटिलेटर से हटा दिया गया था। अस्पताल ने कहा कि 8 जून को उनकी हालत फिर से बिगड़ गई थी।

मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक, उनके दिल की गतिविधि भी बिगड़ गई थी, ब्लड प्रेशर के लिए दवा की जरूरत पड़ रही थी। बुलेटिन ने कहा, “किडनी से संबंधित उनकी पुरानी बीमारी की दशा भी बिगड़ती जा रही थी। वर्तमान में उनकी उनकी नाजुक बताई गई।”

मुख्यमंत्री के.पलानीस्वामी ने अंबाजगन के निधन पर शोक व्यक्त किया है। एक बयान में डीएमके के अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा कि यह मानने को दिल नहीं चाह रहा है कि पार्टी के सबसे कर्मठ अंबाजगन अब नहीं रहे।

स्टालिन ने कहा कि अंबाजगन के सम्मान के रूप में पार्टी तीन दिनों तक शोक का पालन करेगी। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी के सभी कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया गया है।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

बिहार में एक और मर्डर, घर में घुसकर बदमाशों ने महिला को मारी गोली

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें  बिहार के जहानाबाद जिले में बेखौफ अपराधियों को ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *