Breaking News

भाषा विश्वविद्यालय में मनाया गया टेलीविजन डे

लखनऊ। ख़्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती भाषा विश्वविद्यालय, लखनऊ के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग में टेलीविजन डे मनाया गया। विदित है कि 15 सितम्बर को भारत में टेलीविजन कार्यक्रम का प्रसारण हुआ था। इसी दिन भारत में दिल्ली के 20 किलोमीटर के दायरे में प्रसारित किया गया। इसीलिये प्रत्येक वर्ष 15 सितम्बर को टेलीविजन डे के रूप में मनाते हैं।

भाषा विश्वविद्यालय में मनाया गया टेलीविजन डे

जिसके अवसर पर पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग ने ओपन माइक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए विभाग की विषय प्रभारी डॉ रूचिता सुजॉय चौधरी ने बताया कि कभी दूरदर्शन कार्यक्रम हमारे जन माध्यमों में कभी सबसे ऊपर हुआ करता था। कार्यक्रम में पत्रकारिता विभाग के विद्यार्थियों ने दूरदर्शन के इतिहास उसकी उपयोगिता से सबंधित गतिविधियां प्रस्तुत की।

👉सैन्य डॉक्टरों की टीम ने 3डी प्रिंटेड मेक इन इंडिया इम्प्लांट प्रोस्थेसिस के साथ जबड़े को पुनर्स्थापित करने में सफलता हासिल की

छात्रों ने कार्यक्रम में गाने, कविता आदि के माध्यम से भी अपनी विभिन्न प्रस्तुतियां पेश कर दूरदर्शन की पुरानी यादों को ताजा किया। कार्यक्रम के अंत में विभाग के शिक्षक डॉ शचीन्द्र शेखर ने कहा कि टेलीविजन भारीभरकम डिवाइस से मोबाइल टीवी के रूप में अपनी सेवाएं दे रहा है। वहीं डॉ कासिम रिजवी ने दूरदर्शन की महत्ता पर बल दिया। कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन मोहसिन हैदर ने किया। कार्यक्रम में विभाग के डॉ मोहम्मद नसीब के साथ साथ खुशी, आरती, अदीबा के साथ भारी तादाद में विद्यार्थी उपस्थित रहे।

About Samar Saleel

Check Also

कुष्ठपीडितों के लिए संसद में याचिका करेंगे राम नाईक

• कुष्ठपीडितों को जीविका भत्ता दिलायेंगे कलराज मिश्र कुष्ठपीडितों के सबलीकरण हेतु फिर एक बार ...