Breaking News

प्रदर्शन व हंगामे के बीच जिले में संपन्न हुयी टेट परीक्षा

● जिले की 26 परीक्षा केन्द्रों पर हुयी यूपी टेट परीक्षा, प्रथम पाली में 1396 व द्वितीय पाली में 1081 परीक्षार्थी हुये अनुपस्थित

रायबरेली। जिले में प्रदर्शन व हंगामें के साथ यूपी टेट परीक्षा संपन्न हो गयी। काफी परीक्षार्थी केन्द्र में प्रवेश न पाने से अक्रोशित नजर आये। कई केन्द्रो के बाहर प्रदर्शन हुये पर किसी की नही सुनी गई। उत्तर प्रदेश परीक्षा नियामक प्राधिकारी प्रयागराज द्वारा संचालित उप्र. शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) रविवार को जनपद के 26 केन्द्रों पर 2 सत्र में संपन्न हुयी। जिसमें प्राथमिक स्तर कक्षा 1 से 5 तक प्रातः 10 बजे से 12ः30 बजे तक तथा उच्च प्राथमिक स्तर कक्षा 6 से 8 तक अपरान्ह 2ः30 बजे से 5 बजे तक आयोजित हुयी। इस परीक्षा में प्रथम पाली में 26 केन्द्रो पर परीक्षा हुयी जिसमे 15470 परीक्षार्थी के सापेक्ष 14470 परीक्षार्थी शामिल हुये। 1396 प्रतिभागी अनुपस्थिति रहे। द्वितीय पाली में परीक्षा 20 केन्द्रों पर होगी जिसमे 10533 परीक्षार्थियों के सापेक्ष 9052 परीक्षार्थियों ने प्रतिभाग किया। 1081 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे।

परीक्षा में कानून एवं शांति व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए परीक्षा को कुशलता एवं शुचिता पूर्वक सम्पन्न कराने के लिए परीक्षा केन्द्रों की भौगोलिक स्थिति के मद्देनजर 2 अथवा 3 परीक्षा केन्द्रों पर एक सेक्टर मजिस्ट्रेट तथा प्रत्येक परीक्षा केन्द्रों पर दोनों पालियों हेतु 9 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 46 स्टेटिक मजिस्ट्रेट, 26 केन्द्र व्यवस्थापक, 52 पर्यवेक्षक तथा 05 सचल दल प्रतिपाली अलग-अलग तैनात रहे। परीक्षा केन्द्र पर पर्यवेक्षक गोपनीय परीक्षा सामग्री सेक्टर मजिस्ट्रेट से प्राप्त कर अपनी उपस्थिति में नियत समय पर गोपनीय पैकेट खुलवाये गए और परीक्षा समाप्ति पर सामग्री के पैकेट अपनी देखरेख में सील करवाया गया।

उत्तर प्रदेश प्रयागराज द्वारा संचालित उ0प्र0 शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) द्वारा जो कि जनपद के 26 निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर बीती 23 जनवरी को जनपद में अफरा तफरी के बीच संपन्न हुयी । परीक्षा भले ही नकलविहीन रही ही पर कई केन्द्रो पर हंगामे हुये। परीक्षा केन्द्रों पर पानी, बिजली, शौचालय आदि की व्यवस्था दुरूस्त रही शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) परीक्षा नियामक प्राधिकारी उत्तर प्रदेश प्रयागराज व शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप किसी तरह यह परीक्षा नकलविहीन तो रही पर हर केन्द्र पर परीक्षार्थियों ने हंगामा किया किसी तरह यह परीक्षा सम्पन्न हुयी।

प्रथम पाली में 10 बजे से शुरु हुयी परीक्षार्थियों का आरोप था की उसमे कुछ केन्द्रो ने 9:28 तो कुछ मे 9:40 तो कुछ ने 9:50 तक प्रतिभागियों का प्रवेश लिया। जिले का कोई ऐसा केन्द्र नही था जिससे बच्चे वापस न हुये हों। हर केन्द्र से बच्चे वापस गए । प्रधानाचार्य , केन्द्र व्यवस्थापन तथा पर्यवेक्षक, समन्वयी पर्यवेक्षक, अतिरिक्त पर्यवेक्षक, सेक्टर मजिस्ट्रेट, स्टेटिक मजिस्ट्रेट, सहायक पर्यवेक्षक, निरीक्षण पर्यवेक्षक, परीक्षा सहायको एवं नोडल अधिकारी मुस्तैद नजर आये।

रिपोर्ट-दुर्गेश मिश्र

About Samar Saleel

Check Also

योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन हेतु समय सारिणी बनाकर कार्यशालाएं की जाएँ आयोजित- केशव प्रसाद मौर्य

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by– @MrAnshulGaurav Saturday, May 21, 2022 लखनऊ। उप ...