Breaking News

गौ सेवक श्रमिकों का मानदेय तीन से पांच हजार हुआ, निराश्रित पशुओं को छोड़ने पर लगेगा जुर्माना

औरैया। सोमवार को गोवंश आश्रय स्थलों की स्थापना उनके क्रियान्वयन एवं प्रबंधन के अनुश्रवण हेतु जनपद स्तरीय अनुश्रवण, मूल्यांकन एवं समीक्षा समिति की बैठक जिलाधिकारी अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में आहूत की गई।

जिलाधिकारी द्वारा समीक्षा बैठक में कृषक या पशुपालक द्वारा पशुओं को छोड़ने पर कार्रवाई करने, गौशाला में संरक्षित पशुओं के भरण पोषण पोषण एवं रखरखाव की व्यवस्था करने, मा मुख्यमंत्री निराश्रित गोवंश सहभागिता योजना योजना की प्रगति, अस्थाई गोवंश आश्रय स्थल को वित्तीय रूप से स्वावलंबी बनाने, चारागाह भूमि को कृषि योग्य उपजाऊ बनाकर हरे चारे की उपलब्धता बढ़ाने, गौ संरक्षण एवं संवर्धन कोष की स्थापना आदि कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर समीक्षा की गई। इसके अलावा अस्थाई गोवंश आश्रय स्थलों में गोवंशो के संरक्षण का कार्य कर रहे गौ सेवक श्रमिकों के पारिश्रमिक धनराशि को बढ़ाने को लेकर को लेकर अहम फैसला लिया गया। मानदेय बढ़ाने को लेकर गठित समिति की संस्तुति पर जिलाधिकारी द्वारा गौ सेवक श्रमिकों का मानदेय तीन हजार से बढ़ाकर पांच हजार कर दिया गया।

जिलाधिकारी ने सभी खंड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे चारागाह की जमीन को उपजाऊ बनाएं एवं वहां पर हरी घास व चारा उगवायें और उसे भरण पोषण हेतु गोवंशो को दिया जाए। उन्होंने सीवीओ को निर्देश दिए कि कमजोर गोवंशो का टेस्ट करायें एवं हरा चारा, भूषा दाना आदि देकर उन्हें स्वस्थ किया जाए। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि जहां जहां गोशालाओं के रास्ते में पानी भरा है वह मनरेगा के द्वारा सही कराया जाए। साथ ही अभियान चलाकर सभी गौशालाओं में साफ सफाई सफाई में साफ सफाई सफाई गौशालाओं में साफ सफाई सफाई गौशालाओं में साफ सफाई सफाई कराई जाए।

Loading...

उन्होंने नगर पालिका/नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रतिदिन निराश्रित पशुओं को विशेष अभियान चलाकर पकड़ें। जो गोवंश पालक अपने जानवरों को सड़क के बीच में खड़ा कर रहे हैं, उसे पकड़कर गोवंश पालक पर जुर्माना लगाया जाय तथा जानवरों को शहर से बाहर किया जाय।

उन्होंने एडीएम रेखा एस. चौहान को भी निर्देश दिए कि अभियान चलाने के बाद भी यदि कोई अन्ना गोवंश सड़क पर पाया जाता है तो सम्बंधित नगर निकाय से पांच सौ रूपये जुर्माने के तौर पर वसूले जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि गौशाला में कोई भी गोवंश बिना प्रधान और सचिव की अनुमति के न लिया जाये। इस दौरान सभी सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहें।

रिपोर्ट-पुष्पेंद्र कुमार

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

एक अक्टूबर से जिले में चलेगा विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान

औरैया। जिले में पहली अक्तूबर से 31 अक्तूबर तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान कई ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *