Breaking News

विकास उत्सव का उत्साह

साढ़े चार वर्षों के दौरान उत्तर प्रदेश की विकास यात्रा अभूतपूर्व अंदाज में आगे बढ़ी है। किसी भी सरकार के लिए यह बड़े संतोष की बात हो सकती है। विकास के प्रमाण तथ्यों पर आधारित है। इन्हें प्रदेश सरकार ने तीन बुकलेट में समाहित करने का प्रयास किया है। उसके दावे हवा में नहीं है। यह अब दस्तावेज के रूप में है।

करोड़ों गरीबों को अनेक योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित किया गया। इन्हें किसी प्रमाण की आवश्यकता ही नहीं है। यदि बिजली की आपूर्ति में सुधार का लोग अनुभव कर रहे है,तो उन्हें भी किसी प्रमाण की आवश्यकता नहीं है। कई एक्सप्रेस बन रहे है। अनेक महानगरों में मेट्रो का कार्य प्रगति पर है। हवाई अड्डों की संख्या दुगनी से ज्यादा हो रही है। बत्तीस से अधिक जनपदों में मेडिकल कॉलेज का निर्मांण कार्य चल रहा है। किसान सम्मान निधि मिल रही है। ऐसे अनेक कार्य है,जिनका भौतिक सत्यापन किया जा सकता है।

विकास उत्सव के शुभारंभ का यह मजबूत आधार है। इस उत्सव के अनेक स्वरूप है। मुख्यमंत्री लगातार जनपदों की यात्रा कर रहे है। सभी जगह वह विकास योजनाओं की सौगात दे रहे है। यह भी विकास उत्सव का ही रूप है। भाजपा संगठन के स्तर से भी विकास उत्सव का पूरे प्रदेश में आयोजन किया जा रहा है। पार्टी के युवा मोर्चे ने भी इसके दृष्टिगत कमर कसी है।

योगी आदित्यनाथ का दावा है कि प्रदेश सरकार द्वारा साढ़े चार वर्ष में बिना किसी भेदभाव के साढ़े चार लाख नौजवानों को निष्पक्ष,पारदर्शी एवं भ्रष्टाचार मुक्त भर्ती व्यवस्था से सरकारी नौकरियां दी हैं। एक जनपद एक उत्पाद योजना तथा विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के द्वारा प्रदेश में साठ लाख लोगों को रोजगार देने का कार्य किया गया है। प्रदेश में तेेजी से औद्योगिक निवेश के रास्ते खुले है। इसके अन्तर्गत तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्तावों को मूर्त रूप दिया गया है। प्रदेश में कोरोना काल में छांछठ हजार करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुये। उत्तर प्रदेश डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरिडोर का निर्माण एवं विकास प्रगति पर है।

इस काॅरिडोर के कानपुर नोड में अत्याधुनिक तोपों का निर्माण किया जायेगा। कानपुर नोड के लिए तीन सौ एकड़ भूमि अधिग्रहित करने की कार्यवाही की गयी है। आईआईटी, एचबीटीआई व अन्य तकनीकी संस्थाओं को जोड़ते हुए नौजवानों के स्किल डेवलपमेन्ट के साथ रोजगार के अवसर बढ़ाये जाएंगे। औद्योगिक विकास के साथ ही रोजगार के नये अवसरों की व्यवस्था की जा रही है।

लखनऊ में भाजयुमो कार्यसमिति बैठक का आयोजन किया गया। इसमें संगठन पर विचार विमर्श के साथ ही प्रदेश सरकार की उपलब्धियों पर उत्साह दिखाया गया। विधानसभा चुनाव के कुछ महीने पहले आयोजित इस बैठक का विशेष महत्व रहा।कार्यसमिति बैठक का उद्घाटन राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने किया।

दूसरी ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार जनपदों की यात्रा कर रहे है। वह अपनी सरकार की उपलब्धियों का उल्लेख कर रहे है। साथ ही विपक्ष पर भी हमला बोल रहे है। योगी सरकार बनने के बाद आज यूपी में चौबीस घंटे बिजली आ रही है। बिजली व्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार हुआ है। शासन की योजनाएं आमजन तक पहुंच रही है। आज गरीबों को मुफ्त राशन मिल रहा है।

सरकार ने सुशासन और विकास का मॉडल पेश किया है। जिसकी प्रशन्सा विश्व स्वास्थ्य संगठन व नीति आयोग भी कर चुका है। अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण हो रहा। पांच सौ वर्षों का सपना साकार हो रहा है।किसानों का कर्ज माफ किया गया। ढाई करोड़ से अधिक किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ दिया जा रहा है।
पांच लाख रुपए का आयुष्मान कार्ड जारी किया गया है। साढ़े चार साल में कोई भी दंगा नहीं हुआ। प्रदेश में दो करोड़ इकसठ लाख शौचालय बनाए गए।

उन्नाव में पचहत्तर हजार किसानों का ऋण माफ किया गया। समग्र एवं सतत विकास के इस माॅडल से उत्तर प्रदेश नये भारत का नया उत्तर प्रदेश बन रहा है। भविष्य में उत्तर प्रदेश की अर्थ व्यवस्था नम्बर एक की अर्थव्यवस्था होगी। साढ़े चार वर्ष पूर्ण होने पर सरकार ने विकास पर्व का भी शुभारंभ किया था। यह उत्साह के साथ चल रहा है। मुख्यमंत्रीके द्वारा अनेक विकास योजनाओं का शुभारंभ किया जा रहा है। इसके माध्यम से योगी आदित्यनाथ प्रदेश के सर्वांगीण विकास की यात्रा को रेखांकित करते है। अब सभी क्षेत्रों व जनपदों का विकास किया जा रहा है। प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत प्रदेश में बड़ी संख्या में गरीब और जरूरतमंद लोगों के बैंक खाते खुलवाए गए। वृद्ध, निराश्रित,दिव्यांग पेंशन योजना के लाभार्थियों सहित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों के खाते में योजना के तहत दी जाने वाली धनराशि सीधे भेजी जा रही है।

इससे बिचौलियों से मुक्ति मिली है। केन्द्र व प्रदेश की सरकार किसानों के हित के लिये पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा सत्ता में आते ही छियासी लाख लघु एवं सीमान्त किसानों का छत्तीस हजार करोड़ रुपये का फसली ऋण माफ किया गया। किसान सम्मान निधि योजना के तहत छह रुपये वार्षिक किसानों के खाते में डीबीटी के माध्यम से भेजे जा रहे हैं। महिलाओं, गरीबों, मजदूरों, शोषितों को बिना भेदभाव के जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों मे ग्राम सचिवालय की स्थापना कर प्रत्येक ग्राम पंचायत पर कम्प्यूटर सहायक, बैंक सखी की भर्ती कर बैंकिंग सुविधाओं का लाभ, अन्य योजनाओं की फीडिंग का कार्य ग्राम स्तर पर किया जायेगा।अयोध्या में भव्य श्री राम मन्दिर का निर्माण कराया जा रहा है। प्रदेश एवं केन्द्र सरकार द्वारा सबका साथ,सबका विकास,सबका विश्वास के आधार पर कार्य किया जा रहा है।

About Samar Saleel

Check Also

यूपी मिशन 2022 के तहत कांग्रेस कल से यूपी में निकालेगी चार प्रतिज्ञा यात्राएं, ये हैं पूरा मास्टर प्लान

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अपने अभियान ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *