Breaking News

भारत में हालात काफी खराब, वैक्सीनेशन के लिए लेनी चाहिए दूसरे देशों से मदद – अमेरिकी हेल्थ एक्सपर्ट

अमेरिका के शीर्ष स्वास्थ्य विशेषज्ञ और व्हाइट हाउस के मुख्य चिकित्सा सलाहकार डॉ. एंथोनी फौसी (Dr Anthony Fauci) ने कहा है कि भारत को वैक्सीनेशन की प्रक्रिया तेज करने के लिए बाकी देशों से सहयोग लेना चाहिए.

भारत को बेहतरीन वैक्सीन निर्माताओं में से एक बताते हुए फौसी ने कहा कि भारत एक बड़ी आबादी वाला देश है. ऐसे में कुछ फीसदी लोग ही ऐसे हैं जिन्होंने वैक्सीनेशन की दोनों डोज ले ली हैं. वहीं 10 फीसदी या उससे कुछ ज्यादा लोगों ने पहली डोज ली है. ऐसे में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया को तेजी से बढ़ाने के लिए भारत को बाकी देशों और दूसरी कंपनियों के साथ मिलकर तैयारी करनी होगी.

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए देश में आई कोरोना की दूसरी लहर पर फौसी ने कहा, ”संक्रमित लोगों के इलाज के लिए पर्याप्त सुविधा देना ऐसा मुद्दा था जिसपर तुरंत एक्शन लिया जाना था. अमेरिका ने उस समय ऑक्सीजन, ऑक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन जेनरेटर, पीपीई और रेमडेसिवीर से जैसी चीजों के साथ मदद की. लेकिन फिर लॉन्ग रन के हिसाब से देखें तो आपको ये सोचना होगा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन कैसे दी जाए.”

डॉ फौसी ने और भी कई मुद्दों पर बात की. जब उनसे अमेरिका से भारत की यात्रा दोबारा शुरू करने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ये संक्रमण की स्थिति पर निर्भर करता है. भारत में इस समय संक्रमण दर काफी ज्यादा है और इसका मतलब ये है कि भारत के लिए यात्रा दोबारा शुरू करना इस वक्त बेहद मुश्किल है.

पूरा देश इस वक्त कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहा है. हर रोज 3 लाख के ऊपर नए मामले सामने आ रहे हैं, वहीं मौतों का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता जा रहा है.

केंद्र सरकार के मुताबिक, देश में 24 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश ऐसे हैं, जहां 15 फीसदी से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट है. 10 राज्यों- गोवा, पुडुचेरी, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, हरियाणा, राजस्थान, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश और ओडिशा में पॉजिटिविटी रेट 25 फीसदी से अधिक है, जो चिंताजनक है.

12 राज्य ऐसे हैं जहां 1 लाख से भी ज्यादा सक्रिय मामले हैं. महाराष्ट्र में गुरुवार को सबसे ज्यादा 42,582, केरल में 39,955, कर्नाटक में 35,297 और तमिलनाडु में 30,621 नए केस दर्ज किए गए. सरकार ने कहा है कि महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, छत्तीसगढ़, बिहार समेत 20 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश हैं, जहां रोज आने वाले कोविड-19 मामलों में स्थिरता या कमी देखी जा रही है. वहीं केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, पंजाब, असम, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, पुडुचेरी और मणिपुर उन 16 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में शामिल हैं, जहां केस लगातार बढ़ रहे हैं.

About Aditya Jaiswal

Check Also

भारत और केन्या के संबंधों को और मजबूत कर रहे एस. जयशंकर

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें भारत एवं अफ्रीका को कोविड-19 महामारी से मिली ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *