Breaking News

ऐसे बढ़ेगा मतदान प्रतिशत, चुनाव आयोग लाया ‘मॉडल पोलिंग स्टेशन’ वाला फॉर्मूला

आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनावों के लिए ओडिशा के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में 10 प्रतिशत महिला मतदान केन्द्र स्थापित किए जाएंगे। ये फैसला चुनाव आयोग द्वारा लिया गया है। दरअसल चुनाव आयोग द्वारा मंगलवार को एक वर्चुअल मीटिंग की गई। इस मीटिंग में ओडिशा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी निकुंज बुहारी ढल ने सभी कलेक्टरों और जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिए।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश दिए कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में ऐसे मॉडल मदान केन्द्र स्थापित किए जाएं जिनके प्रबंधन की जिम्मेदारी महिलाओं की होगी। निकुंज बिहारी ढल ने कहा कि 10 फीसदी बूथों का प्रबंधन महिलाओं द्वारा किया जाएगा। मॉडल मतदान केन्द्रों में पुलिस और सुरक्षा कर्मी मौजूद रहेंगे।

इन मतदान केन्द्रों के प्रबंधन की जिम्मेदारी महिलाओं की ही होगी। इनमें बुनियादी सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी, जिसके लिए सीईओ ऑफिस द्वारा प्रत्येक मतदान केन्द्र के लिए 25-25 हजार रुपये प्रदान किए जाएंगे। ये राशि इन मतदान केन्द्रों को आकर्षक और सुंदर बनाने में खर्च की जाएगी। इससे ज्यादा से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे।

बैठक के दौरान निकुंज बिहारी ढल ने सभी कलेक्टरों को निर्देश दिए कि मतदान केन्द्र साफ सुधरे होने चाहिए। इसके अलावा मतदाताओं के स्वागत के लिए मॉडल मतदान केन्द्रों पर आकर्षक स्वागत द्वार, शुभंकर, कालीन, सेल्फी जोन, बच्चों के लिए खेलने की जगह और मतदाताओं के बैठने के लिए कुर्सियां की व्यवस्था भी होगी।

मॉडल मतदान केन्द्रों में ये सुविधाएं
मतदान केन्द्रों पर निर्बाध बिजली आपूर्ति, पंखे, कूलर जैसी सुविधाएं होंगी। इसके साथ ही मतदान केंद्रों पर महिलाओं के लिए अलग और पुरुषों के लिए अलग शौचालय की सुविधा होगी। दिव्यांग मतदाताओं के लिए रैंप और व्हीलचेयर जैसी सुविधाएं होंगी। मॉडल मतदान केन्द्रों में मेडिकल किट, ओआरएस, प्रथमिक चिकित्सा की भी व्यवस्था होगी।

About News Desk (P)

Check Also

रक्षा मंत्री के आवास पर आज शाम NDA नेताओं की बैठक, लोकसभा अध्यक्ष पद प्रत्याशी पर होगा मंथन

संसद सत्र से पहले लोकसभा अध्यक्ष पद को लेकर संदेह बना हुआ है, अब तक ...