Breaking News

यूपीः नकली NCERT किताबों पर बीजेपी मुस्किल में, कांग्रेस ने कार्यालय घेराव का ऐलान किया

मेरठ में बीजेपी नेता के गोदाम से भारी मात्रा में बरामद हुई NCERT की नकली किताबों का मामला लगातार गरमाता जा रहा है. आज (मंगलवार को) इस मामले में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के क्षेत्रीय कार्यालय के घेराव का ऐलान किया.

वहीं पुलिस के द्वारा कांग्रेस कार्यकर्ताओं को ऐसा करने से रोक दिया गया. कई थानों की फोर्स के साथ सिटी मजिस्ट्रेट कांग्रेस के जिला कार्यालय पर पहुंच गए. इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ तीखी नोकझोंक हुई. काफी देर चले हंगामे के बाद कांग्रेसियों ने सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देते हुए इस मामले में कार्रवाई के लिए 3 दिन का अल्टीमेटम दिया.

बता दें कि बीते शुक्रवार को STF की टीम ने परतापुर स्थित भाजपा के महानगर उपाध्यक्ष संजीव गुप्ता के गोदाम पर छापा मारकर भारी मात्रा में NCERT की नकली किताबें बरामद की थीं, जिसके बाद से बीजेपी नेता संजीव गुप्ता और उसका भतीजा सचिन गुप्ता फरार हैं.

इस मामले में बीजेपी नेताओं पर तमाम तरह के गंभीर आरोप लगा सपा और कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है. मंगलवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा के जिला कार्यालय के घेराव का ऐलान किया था. सुबह से ही बुढ़ाना गेट प्रहलाद वाटिका स्थित कांग्रेस के जिला कार्यालय में कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटनी शुरू हो गई थी.

मामले की जानकारी के बाद आनन-फानन में सिटी मजिस्ट्रेट एसके सिंह कई थानों की फोर्स के साथ कांग्रेस के जिला कार्यालय पर जा पहुँचे. कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अवनीश काजला के नेतृत्व में नारेबाजी करते कार्यकर्ताओं ने पार्टी के जिला कार्यालय से बीजेपी कार्यालय के लिए कूच किया.

कांग्रेस के जिला कार्यालय से बाहर निकलते ही सिटी मजिस्ट्रेट और फोर्स ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का रास्ता रोक लिया. सिटी मजिस्ट्रेट ने जिले में लागू धारा 144 का हवाला देते हुए प्रदर्शन की अनुमति देने से इनकार कर दिया. इस दौरान पुलिस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच तीखी नोकझोंक हुई. हंगामे के दौरान शारीरिक दूरी की भी जमकर धज्जियां उड़ीं.

काफी देर चले हंगामे के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट को अपना ज्ञापन सौंपा. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस मामले में आरोपित भाजपा नेताओं की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की. इसी के साथ इस पूरे कांड में शामिल सभी आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस-प्रशासन को तीन दिन का अल्टीमेटम दिया है.

About Aditya Jaiswal

Check Also

जहां कमल खिलता है, वहां सुशासन आता हैः जेपी नड्डा

एथेनॉल के प्रोडक्शन में भी उत्तर प्रदेश नंबर वन हो गया, बना रहा 118 करोड़ ...