Breaking News

महिलाओं को मेनोपॉज के दौरान करना पड़ता हैं दिमागी परेशानी का सामना

महिलाओं में बढ़ती उम्र के साथ मेनोपॉज होना एक सामान्‍य प्रक्रिया है, जो 45 से 50 की उम्र के बीच होता है. मेनोपॉज के बाद महिलाओं की प्रजनन क्षमता पूरी तरह से समाप्‍त हो जाती है.

लगभग दो-तिहाई महिलाओं को मेनोपॉज के दौरान दिमागी परेशानी का सामना करना पड़ता है. इनमें से कई महिलाओं को #डिमेंशिया या अल्‍जाइमर होने का खतरा भी बढ़ जाता है.  अल्‍जाइमर होने के कई कारण हो सकते हैं जिसमें बायो‍लॉजिकल और लाइफस्‍टाइल में परिवर्तन भी अहम भूमिका निभाते हैं. 

मेनोपॉज अक्‍सर 45-55 की उम्र के आसपास शुरू होता है और 7-14 साल तक रह सकता है. हेल्‍थ डॉट कॉम के अनुसार मेनोपॉज के दौरान और बाद में ओवरीज में बदलाव आता है वैसे-वैसे मस्तिष्‍क में भी बदलाव आने लगते हैं.

मेमोरी और ब्रेन में होने वाले लक्षणों की वजह से मेनोपॉज को अल्‍जाइमर से जोड़ा जाता है. हालांकि एक्‍सपर्ट्स ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि केवल मेनोपॉज के कारण महिलाओं को अल्‍जाइमर हो सकता है.

 

About News Room lko

Check Also

बच्चों को जल्दी-जल्दी में जैम ब्रेड खिलाती है तो हो जाएं सावधान

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बच्चे हमेशा खाना खाने में आनाकानी करते रहते ...