Breaking News

योगी सरकार भी युवाओं को टैबलेट बांटने की तैयारी में

संजय सक्सेना
   संजय सक्सेना

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश के युवाओं को डिजटल माध्यम से आगे ले जाने के लिए टैबलेट योजना वितरण की शुरूआत करने जा रही है। आईटी एंड राज्य इलेक्ट्रॉनिक विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार जल्द ही टैबलेट खरीदने के लिए कैबिनेट में मंजूरी के लिए पेश किया जाएगा। राज्य सरकार की योजना नवंबर से टैबलेट वितरण शुरू करने की है। विभागीय अधिकारियों ने वितरण के लिए टैबलेट निर्माता कंपनियों से बातचीत शुरू कर दी है।

टैबलेट की उपलब्धता के अनुसार वितरण किया जाएगा। किन-किन विभागों के जरिए कितने युवाओं को टैबलेट दिया जाएगा। इसका निर्धारण भी कैबिनेट नोट में किया जाएगा। योगी सरकार ने टैबलेट बांटने की घोषणा बहुत पहले कर दी थी,लेकिन इसको अमली जामा तब पहनाया जा रहा है,जब विधान सभा चुनाव सिर पर हैं।यह दूसरा मौका है जब कोई सरकार युवाओं को टेबलेट या लैपटॉप देने जा रही है। इससे पूर्व समाजवादी सरकार ने भी 12 वीं पास छात्र-छात्राओं को लुभाने के लिए लैपटॉप बांटे थे,लेकिन उन्हें इसका चुनावी फायदा नहीं मिल पाया था।

गौरतलब हो, सीएम योगी आदित्यनाथ ने अनुपूरक बजट में 3000 करोड़ रूपये के विशेष कोष की घोषणा की थी। इस राशि से प्रदेश के करीब एक करोड़ युवाओं को टैबलेट दिया जाना है। कैबिनेट की मंजूरी के बाद टैबलेट खरीद की प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा। राज्य सरकार को बहुत कम समय में लाखों टैबलेट की खरीद करनी है। इसके लिए कई वेडंरों से टैबलेट की खरीद की जाएगी।


बहरहाल,टैबलेट का स्पेसिफिकेशन तय करने में दो बातों का विशेष ध्यान रखा गया है। पहला टैबलेट किफायती हो और दूसरा युवाओं की पढ़ाई-लिखाई के साथ ही ऑनलाइन प्रोफेशनल वर्क के लिए भी उपयोगी साबित हो। सूत्रों का कहना कि मार्केट ट्रेंड व विशेषज्ञांे से मंथन के बाद तय किया है कि 8 इंच का सिम इनेबल्ड टैबलेट खरीद जाएगा। 4 जी सुविधा से लैस एड्रायंड आधारित ये टैबलेट 2 से 3 जीबी रैम और 32 या 64 जीबी इंटरनल मेमोरी होंगे। ब्लूटूथ, वाई-फाई के साथ ही एमएस ऑफिस के स्टूडेंट वर्जन सहित दूसरे अप्लीकेशन भी एक्सेस हो सकेंगे। इंटरनेट की मुफ्त सुविधा देने के लिए टेलिकॉम कंपनियों से भी बात चल रही है।
सूत्रों के अनुसार टैबलेट वितरण के लिए 12 वीं पास करने के बाद किसी मान्यता प्राप्त पाठ्यक्रम में पंजीकरण को बुनियादी योग्यता तय किया गया है।

वितरण पारदर्शी ढंग से हो सके और सभी जरूतमंद को मिल सके इसके लिए विभागवार आवंटन किया जाएगा। उच्च शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा व प्राविधिक शिक्षा विभाग से उनके यहां पंजीकृत स्टूडेंट्स का ब्यौरा लिया जाएगा। व्यावसायिक शिक्षा व कौशल विकास विभाग को भी योजना में शामिल किया गया है। 12 वीं बाद डिप्लोमा पाठ्यक्रम में पढ़ रहे स्टूडेंट्स के साथ ही कौशल विकास के कार्यक्रमों में पंजीकृत प्रशिक्षुओं को भी टैबलेट दिया जाएगा। आईटी विभाग खरीद के बाद लाभार्थियों के विभागों को टैबलेट हैंडओवर करेगा।

About Samar Saleel

Check Also

आत्मनिर्भर भारत में यूपी का योगदान

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें महात्मा गांधी खादी को केवल वस्त्र नहीं विचार ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *