Breaking News

पीएम नरेंद्र मोदी ने ISRO की इस कामयाबी पर पूरी टीम को दी बधाई

देश की सबसे ताकतवर मिलिट्री सैटेलाइट कार्टोसैट-3 (Cartosat-3) 27 नवंबर को सुबह लॉन्च किया गया. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) अपने पीएसएलवी-एक्सएल वेरिएंट के साथ 14 उपग्रहों को अंतरिक्ष में स्थापित करेगा. इसकी मदद से आतंकी गतिविधियों पर भारतीय सेनाएं नजर रख सकेंगी.

पीएम मोदी ने दी बधाई

पीएम नरेंद्र मोदी ने इस कामयाबी पर इसरो की पूरी टीम को बधाई दी है

Cartosat-3 सैटेलाइट उच्च गुणवत्ता की तस्वीरें लेने की क्षमता से लैस तीसरी पीढ़ी का उन्नत उपग्रह है. यह 509 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित कक्षा में 97.5 डिग्री पर स्थापित होगा.

भारतीय अंतरिक्ष विभाग के न्यू स्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) के साथ हुए एक समझौते के तहत पीएसएलवी अपने साथ अमेरिका के 13 वाणिज्यिक छोटे सैटेलाइट को भी लेकर जा रहा है.

कार्टोसैट-3 का कैमरा इतना पावरफुल है कि वह अंतरिक्ष से जमीन पर 1 फीट से भी कम (9.84 इंच) की ऊंचाई तक की तस्वीर ले सकेगा. कार्टोसैट-3 का वजन लगभग 1500 किलो है.

About News Room lko

Check Also

कौशल किशोर के नेतृत्व में गंगागंज में सैकड़ों सपा बसपा नेता भाजपा में शामिल 

लखनऊ। मोहनलालगंज विधानसभा अंतर्गत आज गंगागंज में केंद्रीय राज्यमंत्री कौशल किशोर के नेतृत्व में सैकड़ो ...