बागी हुए प्रत्याशी,मिल रही धमकी!

बस्ती.लोकतंत्र की स्थापना के साथ ही धनबल और बाहुबल के जरिए कुर्सी हासिल का खेल खेला जा रहा है।चुनाव के पूर्व दागियों को टिकट न देने का दंभ भर रही पार्टियां अंत में उन्ही दबंग दागियों के सहारे चुनावी वैतरणी पार करने का सपना देखती नजर आ रही हैं। टिकट बंटवारे के बाद से राजनीतिक दलों के निष्ठावान कार्यकर्ताओं ने दागियों से तेवर अपना रखे हैं, जिसका खामियाजा जाने-अनजाने हर दल को भुगतना पड़ता है।

ऐसा ही एक मामला बस्ती की महादेवा सुरक्षित सीट पर भी देखने को मिल रहा है।यहाँ निषाद पार्टी,पीस पार्टी,महान दल,जन अधिकार पार्टी,अपना दल के सयुंक्त प्रत्याशी गोबर्धन सोनकर ने एक प्रेसवार्ता कर कहा कि आज तक जितनी भी पार्टिया सत्ता में आई उन सभी पार्टियो ने अपने चहेतों को लाभ पहुचाने का कार्य किया है।ऐसी पार्टियों को जनता ने सबक सिखाने का मन बना लिया है।उन्होंने विधायको पर तंज कसते हुए कहा कि सब अपनी तिजोरी भरने में लगे है जबकि महादेवा विधान सभा की जनता 70 सालो से मूलभूत सुविधाओ से वंचित है। 2017 में महा गठबंधन की सरकार बनेगी तो लोगो को मान सम्मान स्वाभिमान रोटी कपड़ा और मकान देने का कार्य करेगी। बीजेपी पर आरोप लगते हुए कहा कि बस्ती सांसद ने इस चुनाव के लिये रुपये लेकर टिकट देने का काम किया है।उनके कार्यकर्ता वोटरो को धमकाने का भी काम कर रहे हैं और कहते फिर रहे हैं कि अगर सोनकर को वोट दिया तो तुम्हारे हाथ तोड़ देगे।जबकि उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष मंच से गुंडा राज खत्म करने की बात कर रहे है,जबकि कार्यकर्ता गुंडागर्दी करने पर आमादा है।श्री गोवर्धन ने बस्ती बीजेपी सांसद और जिला अध्यक्ष व कार्यकर्ताओ पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मेरे कार्यालय व मेरे घर आकर मेरे ऊपर चुनाव न लड़ने का दबाव बनाया जा रहा है।पिछले दस माह से मेरे द्वारा जनसंपर्क में जो रुपये खर्च किए गए उसे भी देने की बात कह कर चुनाव न लड़ने की नसीहत दे रहे है।लेकिन मै उनकी धमकी से डरने वाला नही हूं और क्षेत्र की जनता के सहयोग और आशीर्वाद से चुनाव जीतकर उनसे किये गए वादों को शत-प्रतिशत पूरा करने का प्रयास कारुंग।

संकलन,सिम्मी भाटिया

About Samar Saleel

Check Also

रायबरेली के लिए जो सोनिया गांधी नहीं कर पाईं, जाते-जाते उसे पूरा कर गए अरुण जेटली

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को रविवार को पूरे राजकीय सम्मान के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *