World Heart Day : जानें कैसे हृदय को रखें स्वस्थ

विश्व के लोगों के हृदय के प्रति जागरूक करने के मकसद से संयुक्त राष्ट्र ने वर्ष 2000 में हर साल World Heart Day विश्व हृदय दिवस को मनाने का निर्णय लिया। पहले सितम्बर के अन्तिम रविवार को विश्व हृदय दिवस मनाया जाता था, लेकिन वर्ष 2014 से इसे 29 सितम्बर के दिन ही मनाये जाने का निर्णय लिया गया।

World Heart Day : जानें क्या कहते हैं विशेषज्ञ

हृदय रोग विशेषज्ञ एवं फिजीशियन डा0 मनीष मिश्रा के अनुसार, ‘विश्व में हृदय रोग से प्रतिवर्ष 2.5 मिलियन लोगों की मृत्यु हो जाती है तथा वर्ष 2030 तक इन आँकड़ो में 23 मिलियन की वृद्धि होने की सम्भावना है। भारत में कुल मौतो मे से लगभग 26 प्रतिशत मौते हृदय रोगो के कारण होती हैं।

विश्व हृदय दिवसका उद्देश्य पूरे विश्व के लोगों में हृदय से सम्बन्धित होने वाले रोगों, उनके परिणाम व उनके रोकथाम के लिये जागरूक बनाना है।

कैसे कार्य करता है ह्रदय

हृदय एक माँसपेशी अंग है, जिसके द्वारा हमारे शरीर में वेन्स और आर्टरीस के माध्यम से खून का प्रवाह होता है। अशुद्ध खून जो कि हमारे अंगो से वेन्स के द्वारा हृदय के दाहिने भाग में पहुॅचता है तथा पल्मोनरी अर्टरी के द्वारा दोनो फेफड़ो में पहुॅचता है, जहाँ पर उस अशुद्ध खून का शुद्धिकरण होता है और पल्मोनरी वेन्स के द्वारा हृदय के चारो भाग में पहुॅचता है फिर आओरटा के माध्यम से शुद्ध खून सारे अंग तक पहुॅचता है।

हृदय रोग के प्रकार

  • हार्ट अटैक (हृदयाघात)
  • हार्ट फेलियोर
  • कार्डियोमायोपैथी
  • रूमैटिक हृदय रोग
  • कन्जेनाइटल हृदय रोग (जन्मजात) इत्यादि।
हृदय रोग के प्रमुख कारण
  • हाईपर टेन्सन
  • मधुमेह (डायबेटीज)
  • डिस्लिपिडिमिया
  • धूम्रपान एवं अत्यधिक शराब का सेवन करना
  • परिवार में हृदयरोग का इतिहास
  • उच्च वसायुक्त आहार का सेवन
  • अत्यधिक मोटा होना
  • तनाव
  • व्यायाम की कमी।
दिल का दौरा पड़ने के संकेत
  • सीने में दर्द
  • जबड़े-गर्दन या पीठ दर्द
  • हाथ या कंधे में दर्द
  • सांस में तकलीफ होना
  • पसीना
  • मचली या उल्टी होना
  • चक्कर आना
  • घुटन होना
  • बेचैनी होना इत्यादि।
हृदय को स्वस्थ बनाये रखने के लिए सुझाव
  • कम वसा एवं उच्च रेशायुक्त आहार जैसे साबूत अनाजो, फलो तथा सब्जियों का सेवन करे।
  • तम्बाकू व धू्रमपान का सेवन करने से बचे।
  • शराब का सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हृदय के जोखिम को 30 प्रतिशत कम किया जा सकता है।
  • प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट व्यायाम अवश्य करें।
  • नमक का सेवन कम करें।
  • ब्लड प्रेशर, डायबटीज और कोलेस्ट्राल को नियंत्रित रखे।
  • तनाव मुक्त जीवन जिए तनाव अधिक होने पर योगा करना लाभकारी होता है। हमेशा खुद के खुश रखने की कोशिश करें।
  • पर्याप्त नींद ले – लगभग 8 घंटे की प्रतिदिन नींद जरूरी है।

About Samar Saleel

Check Also

लंबी बीमारी के बाद अरुण जेटली का AIIMS में हुआ निधन, भाजपा में दौड़ी शोक की लहर

पूर्व वित्त मंत्री व भाजपा (BJP) के वरिष्‍ठ नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार को दिल्‍ली के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *