Breaking News

अपनी पसंद से युवक से शादी करने पर बेटी को मार यमुना नदी में फेंका, दो भाई हिरासत में

औरैया। जिले के अयाना क्षेत्र में अपनी मर्जी से शादी करने पर परिजनों ने बेटी को मारकर यमुना में फेंक दिया। दो दिन बाद जब शव मिला तो प्रेमी ने उसकी पहचान प्रेमिका के रूप में की। प्रेमी की तहरीर पर बेटी के पिता भाई समेत छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। दोनों भाइयों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। जबकि पिता व अन्य आरोपी फरार है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। प्रेमी ने एक वीडियो भी जारी किया है जिसमें लड़की अपने पिता व भाई से जान का खतरा बता रही है।

आधिकारिक सूत्रों ने गुरूवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बुधवार की दोपहर बाद अयाना के गांव जुहीखा में चैकीदार सत्यपाल ने एक युवती का शव यमुना नदी में देखा, जिसके हाथ पैर बंधे थे। चैकीदार ने पुलिस को सूचना दी। पहचान न होने पर अज्ञात में पंचनामा भरा गया। इसकी सूचना मिलने पर जालौन के थाना कालपी के गांव कटरा निवासी एलएलबी के छात्र रिशाल सिंह पुत्र वीरपाल सिंह ने पहचान अपनी प्रेमिका ह्रदयेश कुमारी पुत्री यशवीर सिंह निवासी सेंगनपुठा अजीतमल के रूप में की।

रिशाल सिंह ने बताया कि उसने ह्रदयेश सिंह से आर्य समाज मन्दिर में शादी की थी। ह्रदयेश के परिजन शादी के खिलाफ थे तो उन्होने ह्रदयेश की हत्या कर शव यमुना में फेंक दिया है। पुलिस ने प्रेमी की तहरीर पर पिता यशवीर सिंह, भाई शीपू व शिलपू एवं भाभी श्वेता व मृतका की बुआ एवं एक अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने दो भाइयों को हिरासत में ले लिया जबकि पिता व बुआ फरार हैं।

मृतका के प्रेमी रिशाल सिंह ने बताया कि मृतका उसकी रिस्तेदारी में लगती थी और उसने पास के गांव चंदनापुर में अपनी बहन के यहां रहकर हाईस्कूल तक की पढ़ाई की थी। दोनो में दोस्ती के साथ प्रेम हो गया था। मृतका ह्रदयेश बीटीसी और टेट पास थी जबकि वह एलएलबी कर रहा था। जब ह्रदयेश के घर वाले नही माने तब उसने भागकर आर्य समाज मन्दिर कानपुर में 4 सितंबर 2021 को शादी कर ली थी और कानपुर में मैरिज रजिस्ट्रार के यहां रजिस्ट्रेशन भी करा लिया था। हम लोग साथ रह रहे थे।

तभी लड़की के पिता व भाई आये और कहा कि हमारी इकलौती बेटी है वह धूमधाम से विदा करना चाहते है। इसलिए अभी घर भेज दो फिर मुहूर्त निकालकर अच्छे से शादी करेंगे। वह दोनों उनकी बातों में आ गए। ह्रदयेश की मां का बचपन में ही निधन हो गया था। ह्रदयेश पिता के साथ घर चली गई और कुछ दिन बाद ही उन लोगों ने उस पर पाबंदियां लगा दी और फोन भी छीन लिए। इसके बाद उसकी शादी दूसरी जगह तय करने लगे। इसका ह्रदयेश विरोध कर रही थी। कुछ महीने ऐसा चला तो उसने फिर फोन भिजवाया।

रिशाल ने बताया कि एक दिन उसने हमें वीडियो बनाकर भेजा कि उसके पिता व भाई मारने की धमकी दे रहे हैं। रिशाल ने बताया कि 25 सितंबर को उसकी रात 9.30 बजे बात हुई थी फिर फोन बंद हो गया। 10.30 बजे खुला तो उठा नहीं और फिर बंद हो गया। इसके बाद कोई जानकारी नहीं हो सकी। वह पता लगा ही रह था कि बुधवार को यमुना में शव मिलने की सूचना मिली तब उसने पहचान की। रिशाल सिंह ने एक वीडियो दिया है जिसमें लड़की की आवाज है और फेस नही आ रहा बस लड़की का हाथ दिख रहा है जिसमें वह पिता व भाई से जान का खतरा बता रही है।

रिशाल का कहना है कि यह आवाज ह्रदयेश की है जो उसने उसे भेजी है। उधर शव देखकर स्पष्ट लग रहा था कि हत्या हुई है। शव के हाथ पैर निवाड़ (चारपाई की रस्सी) से बंधे थे और जीभ बाहर निकली थी। इससे लग रहा था कि गला दबाकर हत्या की गई है। सीओ प्रदीप कुमार ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। दो भाई हिरासत में लिए है। पूछताछ में पता चला है कि एक भाई कल ही बाहर से आया है। सभी बिन्दुओ पर जांच चल रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मौत का कारण स्प्ष्ट हो जाएगा।

रिपोर्ट – राहुल तिवारी/संदीप राठौर चुनमुन

About Samar Saleel

Check Also

अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को कहा I Love You Too…

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें दिल्ली MCD चुनाव में जीत के बाद मुख्यमंत्री ...