Breaking News

हर शानिवार व रविवार करें मच्छरों पर वार

● वेक्टर सर्विलांस के आधार पर होगी रणनीति तैयार
● साप्ताहिक होगी अन्तर्विभागीय बैठक

सुल्तानपुर। संचारी रोगों पर नियंत्रण के लिए जिले में अभियान चलाया जा रहा है। इसमें स्वास्थ्य विभाग नोडल विभाग के रूप में अन्य विभागों के साथ मिल कर कार्य कर रहा है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. डी.के.त्रिपाठी ने कहा जिले में दो अप्रैल से संचारी रोग नियंत्रण अभियान की शुरुआत हो चुकी है , बिना समुदाय की सहभागिता के किसी भी अभियान की सफलता सुनिश्चित नहीं की जा सकती। इसलिए आम नागरिकों से भी अपील है कि सभी संचारी रोगों के खात्मे और परिवार को सुरक्षित रखने के लिए अपने स्तर से हर संभव प्रयास करें। यदि सभी लोग हर शनिवार व रविवार मच्छरों की रोकथाम के लिए कार्य करें तो निश्चित रूप से हम रोगों पर लगाम लगा सकेंगे।

डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया, जापानी इंसेफेलाइटिस (जेई), एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (ए.ई.एस.) जिसे चमकी बुखार भी कहते हैं और फाइलेरिया जैसे संचारी रोग मच्छर के कारण ही फैलते हैं। इनमें से अधिकांश रोग लापरवाही करने पर जानलेवा भी साबित हो सकते हैं। थोड़ी सी सावधानी से इन रोगों से बचा जा सकता है।

मच्छर जनित बीमारियों से बचाव के आसान उपाय-
– सप्ताह में कूलर, फूलदान, पशु-पक्षियों के बर्तन आदि को अवश्य साफ़ करें।
– खिड़कियों-दरवाज़ों पर जाली लगवाएं और मच्छरदानी का प्रयोग करें।
– पुराने टायर,बोतल,डिस्पोज़ल, कबाड़ आदि में पानी न जमा दोने दें।
– पानी के बर्तन व टंकी को पूरी तरह ढक कर रखें।
– नाली और गमलों में पानी जमा न होने दें।
– मच्छर के काटने से बचें, पूरी बाजू के कपड़े और फुलपैंट पहने।
– छोटे बच्चों को खास तौर पर मच्छरों से बचाने के उपाय करें।

सावधान रहें – तेज़ बुखार के साथ सिर दर्द/आँखों के पीछे दर्द, जोड़ो और मांसपेशियों में दर्द, त्वचा पर लाल चकत्ते और थकान हो तो तुरंत अपने नज़दीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर जाँच व उपचार करवायें।

जिला मलेरिया अधिकारी बंशी लाल ने बताया कि अभियान के तहत घर-घर सर्वे किया जा रहा है।इस बार वेक्टर सर्विलांस के आधार पर आगे की रणनीति तैयार की जाएगी। वेक्टर सर्विलांस में ब्लॉक स्तर से अधिक संक्रमण वाले क्षेत्रों की जानकारी के आधार पर जिले से रैपिड रिस्पांस टीम भेजी जाती है जो स्थिति का आंकलन कर अपनी रिपोर्ट देती है।पिछले वर्ष की स्थिति के आधार पर वेक्टर सर्विलांस के लिए कुडवार, दुबेपुर, अखंड नगर, कूडेभार, धनपतगंज, पी.पी. कमैचा सहित शहरी क्षेत्र के सभी वार्डों में टीम लगाईं गई हैं।
वर्ष 2020-21 में जिले में मलेरिया के 37, फाइलेरिया के 161और डेंगू के 32 केस चिन्हित हुए थें।

रिपोर्ट-शिव प्रताप सिंह सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

पारदर्शी व्यवस्था का व्यापक लाभ

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Thursday, May 19, 2022 नियुक्तियों में ...