Breaking News

Career : चुनौतियों से खुद को कैसे तैयार करें युवा

हम सभी शिक्षा पूर्ण करने के बाद अपने भविष्य को लेकर कुछ अपेक्षाए रखते है। उसके लिए लक्ष्य बनाते है और आगे बढने के लिए प्रयास करते है फिर अपना Career बेहतर बनाने के लिए मेहनत करते है। इसलिय हमे सोच समझकर फैसला लेना चाहिए । छोटी-बड़ी कई चुनौतिया आती रहती है यही चुनौतिया हमारे लिए सफलता और असफलता की नीव रखती है।

बेहतर Career के लिए साधक और बाधक का चयन महत्वपूर्ण

Career बेहतर बनाने के लिए वास्तव में जब हम एक पेशेवर माहौल में जाते है तो जोश और ऊर्जा से भरे होते है और हर तरह की चुनौतो का सामना करने के लिए तैयार रहते है। लेकिन कुछ समय के बाद यह ऊर्जा कम होने लगती है और हम हतोत्त्साहित होने लगते है।

किसी भी पेशेवर माहौल में जाते हुए हमे इस बात के लिए आश्वस्त होना होगा की क्या सचमुच हम यही चाहते है? हमें यह जानना अति आवश्यक होता है कि हमारे लक्ष्य तक पहुंचने में यह हमारे लिए किसी तरह का बाधा तो नहीं, क्योंकि दिन भर का समय किसी नौकरी में देने का विचार हमारे लिए लक्ष्य तक पहुंचने का साधक भी हो सकता है और बाधक भी। इसलिए हमे सोच समझकर फैसला लेना चाहिए । छोटी-बड़ी कई चुनौतिया आती रहती है यही चुनौतिया हमारे लिए सफलता और असफलता की नीव रखती है।

विपरीत परिस्थितियों में किया गया प्रयास ही हमें सफलता की ओर ले जाता है

कार्यस्थल पर निरंतर सफलता की ओर बढते रहना आसान नहीं होता। कई बार हमे पसंद का काम नहीं मिलता ,तो कई बार अपेक्षित सहयोग नहीं मिलता, तो कई बार अचानक ही कोई और बोझ बढ़ जाता है, जिससे काम और जीवन में संतुलन बनाना मुश्किल हो जाता है। लम्बे समय तक मन के मुताबिक माहौल का न मिल पाना हमारे उत्साह को कम करता है , पर इसी समय जब हम खुद को प्रेरित करते हैं तो हमारा यहीं किया हुआ प्रयास ही हमें सफलता की ओर ले जाता है। जब इन्ही क्षणों में हम अपने लक्ष्य की ओर बढते है, अपने कार्यशैली में बदलाव लाते है तब जाकर कहीं हम अपने प्रगति को बेहतर तरीके से समझ पाते है।

अपनी रूचि के अनुसार ही अपना क्षेत्र चुने

हमे यह हमेशा याद रखना चाहिए कि नौकरी चाहे पहली हो या चौथी, हम लगातार अपने आसपास के माहौल से सीखते है तो कुछ कामों को अपनी कार्यशैली से पहले से बेहतर बना देते है। अगर हम प्रोफेशनल लाइफ में खुद को बड़ी भूमिका में देखना चाहते है तो शुरू से ही अपनी योग्यता साबित करने में जुट जाना चाहिए। कई बार देखा जाता है की युवा नौकरिया छोड़ नए करियर का चुनाव करना शुरू कर देते है। ऐसे युवा अपने प्रशिक्षण से बहुत अलग तरह के क्षेत्रो में अपना भविष्य बनाने की राह पकड़ लेते है, फिर इसके पीछे उनकी रूचि हो या फिर पैसे का आकर्षण।

खुद पर भरोसा रख अपना सर्वश्रेठ देने की कोशिश करें

जब बात करियर में बदलाव की आती है तो उसमे भविष्य को लेकर एक किस्म की अस्थिरता भी होती है। हमे खुद पर भरोसा रखना होगा। खुद को बेहतर काम करने के लिए प्रेरित करना होगा। सफलता और असफलता एक ही सिक्के के दो पहलु है। कुछ मौके पर हम सफल रहते है, जबकि कई बार हम बेहतर प्रदर्शन करते हुए भी असफल हो जाते है। फिर हमारी असफलता पर कई तरह की आलोचनाएं होती है और कमियां निकाली जाती है। हमें इस पर ध्यान न देते हुए अपना सर्वश्रेठ देने की कोशिश करनी चाहिए।

Loading...

आलोचना अगर सही है तो उन्हें स्वीकार करे और उनको चुनौती के रूप में लेते हुए अपने कार्यक्षमता को बढ़ाना चाहिए। साथ ही हमे सफलता के विकल्पों को भी खोजना चाहिए। हमेशा ध्यान रखना होगा की हम अपनी योजना में असफल होने वाले पहले व्यक्ति नहीं है क्योकि कोई भी पूरी तरह परफेक्ट नहीं होता, ऐसे में निराश होने के बजाय अपने मित्रों,परिवार व बड़ो से बातचीत करे,उनका सहयोग ले।

सोनू सिंह

 

 

 

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

“क्लीन इंडिया ग्रीन इंडिया” मुहीम में जुटे लेमन मैन आनंद मिश्रा

समर सलिल की टीम आज आनंद मिश्रा कि नींबू की बाग देखने उत्तर प्रदेश के रायबरेली ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *