एलेक्सी लियोनोव कीहुई मौत, उन्होंने अंतिम सांसें मॉस्को में ली

अंतरिक्ष में पहली बार 12 मिनट तक चहलकदमी कर इतिहास रचने वाले एलेक्सी लियोनोव का शुक्रवार को निधन हो गया. उन्होंने अंतिम सांसें मॉस्को में ली. वे 85 साल के थे. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रूस की अंतरिक्ष एजेंसी रोस्कोमॉस ने अपनी वेबसाइट पर इसकी जानकारी दी.

उनकी मृत्यु के वास्तविक कारणों को अभी तक पता नहीं चल सका है. बता दें रूसी मीडिया के हवाले से जानकारी मिली है कि लियोनोव बीते कुछ वर्षों से स्वास्थ्य समस्याओं से परेशान थे. उन्हें उपचार के अस्पताल में भर्ती कराया गया था. रिपोर्ट के मुताबिक लियोनोव का निधन को लेकर नासा ने अपना प्रसारण रोक दिया. इसकी समाचार मिलते ही नासा ने अपना लाइव प्रसारण बीच में ही रोक दिया. इस समय चार अंतरिक्ष यात्री अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के बारह चहलकदमी कर रहे थे. नासा ने इसके बजाय लियोनोव के निधन की समाचार को प्रसारित किया.

एलेक्सी लियोनोव ने अपने अंतरिक्ष यान से बाहर निकलकर लगभग 16 फीट लंबे केबल की मदद से अंतरिक्ष में 12 मिनट तक चहलकदमी की थी. वर्ष 2014 में लियोनोव ने मीडिया से बोला था कि आप इसे शब्दों में बयां नहीं कर सकते. बाहर निकलकर केवल महसूस किया जा सकता है कि हमारे चारों ओर कितनी विशाल संसार है.

Loading...

लियोनोव का जन्म साइबेरिया में हुआ था. उनके पिता स्टालिन के दमन का शिकार बने थे. वर्ष 1948 में उनका परिवार पश्चिमी रूस में आकर रहने लगा. सबसे पहले एयरफोर्स पायलट के तौर पर लियोनोव को अतंरिक्षत यात्री के रूप में प्रशिक्षिण पाने का मौका मिला. 1960 में उन्हें यूरी गागरिन के साथ ट्रेनिंग मिली. यूरी अंतरिक्ष में जाने वाले पहले आदमी थे. दोनों अच्छे दोस्त थे.

Loading...

About News Room lko

Check Also

पाक ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन, फायरिंग में एक भारतीय जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर के राजौरी के नौशेरा सेक्टर में एक बार फिर पाकिस्तान की ओर से सीजफायर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *