Breaking News

गायत्री ज्ञान मंदिर के ज्ञान यज्ञ अभियान में जीसीआरजी स्कूल में सम्पूर्ण वाङ्मय साहित्य की स्थापना

इस अवसर पर वाङ्मय स्थापना अभियान के मुख्य संयोजक उमानंद शर्मा ने कहा कि सदज्ञान व्यक्ति को नर से नारायण बना सकता है। डॉ. नरेन्द्र ने छात्र-छात्राओं को निरोगी जीवन जीने के ऋषि सूत्र दिये।

लखनऊ। गायत्री ज्ञान मंदिर इंदिरा नगर, लखनऊ के विचार क्रान्ति ज्ञान यज्ञ अभियान के अन्तर्गत जी.सी.आर.जी. इण्टरनेशनल स्कूल चन्द्रिका देवी रोड, बी.के.टी. लखनऊ के केन्द्रीय पुस्तकालय में गायत्री परिवार के संस्थापक युगऋषि पं. श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा रचित सम्पूर्ण 79 खण्डों का 358वाँ वांड़मय साहित्य की स्थापना कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

गायत्री ज्ञान मंदिर के ज्ञान यज्ञ अभियान में जीसीआरजी स्कूल में सम्पूर्ण वाङ्मय साहित्य की स्थापना

उपरोक्त साहित्य गायत्री परिवार रचनात्मक ट्रस्ट गायत्री मंदिर इन्दिरा नगर के सक्रिय कार्यकर्ता जितेन्द्र सिंह ने भेंट किया। सभागार में उपस्थित सभी छात्र-छात्राओं एवं शिक्षक-शिक्षिकाओं को अखण्ड ज्योति पत्रिका भेंट किया गया।

 डॉ. नरेन्द्र ने छात्र-छात्राओं को निरोगी जीवन जीने के ऋषि सूत्र दिये।

इस अवसर पर वाङ्मय स्थापना अभियान के मुख्य संयोजक उमानंद शर्मा ने कहा कि सदज्ञान व्यक्ति को नर से नारायण बना सकता है। डॉ. नरेन्द्र ने छात्र-छात्राओं को निरोगी जीवन जीने के ऋषि सूत्र दिये।

गायत्री परिवार रचनात्मक ट्रस्ट गायत्री मंदिर के सक्रिय कार्यकर्ता जितेन्द्र सिंह ने साहित्य भेंट किया।

संस्थान के प्रधानाचार्या भावना सिन्हा ने धन्यवाद ज्ञापन व्यक्त किया। इस अवसर पर संस्थान के प्रधानाचार्या भावना सिन्हा तथा उमानंद शर्मा, डॉ. नरेन्द्र देव, जितेन्द्र सिंह, शिवम, तथा छात्र-छात्रायें, शिक्षक-शिक्षिकायें, मौजूद थीं।

रिपोर्ट–दयाशंकर चौधरी

About reporter

Check Also

अवैध कब्जे पर चला बुल्डोजर : शमशान भूमि पर दबंगों का था कब्जा, दो दिन का समय देने पर भी नहीं हटा अतिक्रमण

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Monday, May 23, 2022 बिधूना। क्षेत्र ...