Breaking News

देश की संसद में बैठेगा किसान का बेटा: चौधरी सुनील सिंह

• राष्ट्रीय किसान मोर्चा देश का तीसरा विकल्प बनेगा

लखनऊ। आज देश के तमाम किसान संगठन, मजदूर संगठन में राजनीतिक पार्टियों की एक बैठक लखनऊ में आयोजित की गई जहां सर्व समिति से एक राष्ट्रीय किसान मोर्चा का गठन किया गया। जिसमें सर्व समिति से 11 सदस्य कोर कमेटी का गठन किया गया। जिसकी अध्यक्षता राष्ट्रीय अध्यक्ष लोकदल चौधरी सुनील सिंह ने की।

👉जमीन से कोसों दूर हैं ग्लोबल इन्वेस्टर समिट में पेश हुए लाखों के प्रस्ताव, सीएम योगी सख्त, दिए ये आदेश

इस बैठक में लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सुनील सिंह ने आह्वान किया कि किसानों को एकजुट होकर अपने हक के लिए आवाज बुलंद करनी होगी। किसानों की समस्या को लेकर विभिन्न विषयों पर लड़ाई लड़नी होगी।

किसान अपने अधिकार के लिए आजाद भारत में सड़कों पर संघर्ष कब तक करता रहेगा? किसान परिवार के लोगों को आंदोलन में कब तक शहीद होते रहना पड़ेगा? आखिर कब तक किस मुख्य धारा का हिस्सा बनेगा? किसान संघर्ष के साथ-साथ कलम और वोट की ताकत से अपने अधिकार लेकर और अपनी आने वाली पीढियां का भविष्य सवारेगा।

देश की संसद में बैठेगा किसान का बेटा: चौधरी सुनील सिंह

श्री सिंह ने आगे कहा है कि सरकार कितना भी जोर लगा ले हम भाईचारा नहीं बिगड़ने देंगे। हम सब सब साथ- साथ हैं किसान जब तक संगठित होकर कोई भी काम नहीं करेगा तब तक मेहनत का फल कोई और ही खाता रहेगा। हर दिन रात करके एक खेतों में अपना खून पसीना बहाता है श्री सिंह ने आह्वान किया कि इस बार एमएसपी नहीं तो लोकसभा 2024 के चुनाव में वोट नहीं किसान की हक की लड़ाई इस बार ज्यादा मुखर होकर लड़ी जाएगी।

👉चीनी मिल ने गन्ना किसानों को आर्थिक रूप से किया समृद्ध: अविनाश सिंह

किसान इस बार आर पार की लड़ाई लड़ेगा क्योंकि किसान को ED एवं सीबीआई का डर दिखाकर ना तो डरा सकते हैं और नहीं पराजित कर सकते हैं किसान की हक की लड़ाई में जाति-पाति के बंधन को छोड़कर अपने हक की आवाज को बुलंद करना होगा, इसलिए किसानों को एकजुट होकर सड़क से संसद तक की लड़ाई लड़ने के लिए तैयार रहना होगा। अब देश की संसद में किसानों का बेटा बैठेगा हम निश्चित तौर पर 2024 लोकसभा चुनाव में संसद तक पहुंचने में कामयाब होंगे।

👉उतरेगा 350 किलो का रोवर, चंद्रयान-3 के बाद क्या होंगे ISRO के मून मिशन; जानिए प्रोजेक्ट LuPEx की डिटेल

बैठक में मुख्य रूप से हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप सिंह हुड्डा को उपाध्यक्ष एवं संयोजक रिशिपाल, अंबावता राजनीतिक फ्रंट के संयोजक हरि भाई पटेल तथा महिला मोर्चा संयोजन रवीना कुमारी को बनाया गया। राष्ट्रीय किसान मोर्चा देश का तीसरा विकल्प बनेगा।

अब देश की संसद में किस बैठेगा चौधरी चरण सिंह के सपनों को साकार किया जाएगा। आज की बैठक में दो दर्जन से अधिक संगठन तथा एक दर्जन राजनीतिक पार्टियों के लोग भी शामिल हुए। मोर्चा आगामी 10 दिसंबर को फरीदाबाद 15 दिसंबर को बाराबंकी तथा 23 दिसंबर को मेरठ जिले में एक विशाल सम्मेलन भी आयोजित कर रहा है।

About Samar Saleel

Check Also

भाजपा ने घोषणापत्र को बताया जनता की आकांक्षाओं का संकल्प पत्र, विपक्ष बोला- BJP ने संविधान को नष्ट किया

लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने आज अपना घोषणापत्र जारी किया है। केंद्रीय मंत्री राजनाथ ...