Breaking News

फिर आमने सामने आए भारत-चीन के सैनिक, 200 चीनी सैनिकों को भारतीय सेना ने खदेड़ा

नई दिल्ली। लद्दाख ही नहीं बल्कि अरुणाचल प्रदेश में भी चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अरुणाचल के तवांग सेक्टर में पिछले हफ्ते भारतीय जवानों की चीन के सैनिकों से झड़प हो गई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पेट्रोलिंग के दौरान सीमा विवाद को लेकर दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने हो गए थे और कुछ घंटों तक यह सिलसिला चलता रहा। हालांकि इसमें भारतीय जवानों को कोई नुकसान नहीं हुआ। दोनों पक्षों के बीच कुछ घंटे इस पर चर्चा हुई और मौजूदा प्रोटोकाल्स के अनुसार दोनों ने मामले को सुलझा लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अरुणाचल प्रदेश में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीन के 200 सैनिक तिब्बत की तरफ से भारतीय सीमा में घुस आए थे, जिन्हें भारतीय सैनिकों ने खदेड़ दिया। कुछ चीनी सैनिकों को हिरासत में भी लिए जाने की खबर है। बता दें कि लद्दाख में चीन की घुसपैठ और भारतीय जवानों से झड़प की खबरें आती रहती हैं, लेकिन अरुणाचल में झड़प की खबर लंबे समय बाद आई है। इससे जाहिर है कि चीन ने अरुणाचल में फिर से अपनी गतिविधियां बढ़ा दी हैं। जबकि अगले 3-4 दिन में लद्दाख को लेकर भारत-चीन के बीच बातचीत होनी है।

गौरतलब है, 30 अगस्त को उत्तराखंड के बाराहोती में चीन के तकरीबन सौ सैनिक सीमा रेखा पार कर भारतीय क्षेत्र में घुस आए थे। करीब पांच किलोमीटर तक अंदर आने के बाद चीनी सैनिक वापस लौट गए थे। भारतीय सीमा क्षेत्र से वापस लौटने के दौरान चीनी सैनिकों ने इलाके में एक पुल को भी नुकसान पहुंचाया था। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों ने इस तरह की खबरों को खारिज कर दिया था। बता दें, पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों की सेनाओं के बीच अप्रैल 2020 से ही तनातनी चल रही है। इसको डेढ़ साल से ज्यादा समय हो गया है, लेकिन यहां अभी भी तनाव का माहौल है।

सीमा पर सहयोग बढ़ाएगा भारत और नेपाल

भारत और नेपाल सीमा पर समन्वय और सहयोग बढ़ाने पर सहमत हो गए हैं। दोनों देशों के सीमा रक्षक बल सीमा पर स्थिति को सामान्य रखने के लिए एक साथ मिलकर काम करेंगे। यह सहमति भारत के एसएसबी के महानिदेशक और नेपाल के आ‌र्म्ड पुलिस फोर्स के महानिरीक्षक की नई दिल्ली में हुई बैठक में बनी। बैठक में शामिल भारतीय दल का नेतृत्व बीएसएफ के महानिदेशक कुमार राजेश चंद्र और नेपाली दल का नेतृत्व एपीएफ के महानिरीक्षक शैलेंद्र खनाल कर रहे थे। सीमा मामले पर अगली बैठक 2022 में नेपाल में होगी। दोनों देशों के अधिकारियों के बीच बैठक चार अक्टूबर से चल रही थी।

About Samar Saleel

Check Also

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का 57वां जन्मदिन आज, सीएम योगी सहित इन नेताओं ने दी बधाई

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें केंद्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के पूर्व ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *