Breaking News

केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला: 31 मार्च तक दिल्ली पूरी तरह लॉकडाउन, घरेलू उड़ानों पर भी बैन, केवल ये सेवाएं चालू

दिल्ली सरकार ने कोराेना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए 23 मार्च (सोमवार) से 31 मार्च तक राजधानी को लॉक डाउन करने का एलान किया है। उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरिवंद केजरीवाल ने आज इसकी घोषणा करते हुए कहा कि इस दौरान कुछ आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी गतिविधियां पूरी तरह बंद रहेंगी। केजरीवाल ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान दिल्ली के सीमा से जुड़ी सभी सीमाएं सील की जा रही हैं। केवल आवश्यक वस्तुओं (दूध, फल और सब्जी) को लाने वाले वाहनों को ही दिल्ली में प्रवेश दिया जाएगा। उन्हाेंने कहा कि दिल्ली हवाई अड्डे से सभी उड़ानें बंद रहेगी और लॉक डाउन के दौरान अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी रद्द रहेंगी।

उन्होंने कहा सभी धार्मिक स्थलों को बंद कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने बताया दिल्ली के सभी बाजार बंद रहेंगे और इस दौरान केवल सब्जी, दूध और किराना स्टोर खोलने की अनुमति रहेगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली में सामान की किसी भी प्रकार की किल्लत नहीं है और काला बाजारी करने वालों के खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में अभी तक 327 शिकायतों पर 437 मामले दर्ज किये जा चुके हैं।

केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र केवल 23 मार्च को एक दिन होगा। बैजल और केजरीवाल ने लॉक डाउन के दौरान अनावश्यक रूप से लोगों से घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के दौरान सार्वजनिक परिवहन मेट्रो रेल, प्राइवेट बसें, तिपहिया और टैक्सी वाहन तथा ई-रिक्शा सभी बंद रहेंगे। केवल दिल्ली परिवहन निगम की 25 फीसदी बसें ही चलेंगी। इस दौरान अंतर्राज्यीय बसों का आवागमन भी पूरी बंद रहेगा। इस दौरान प्राइवेट दफ्तर बंद रहेंगे। जबकि केन्द्र सरकार के दफ्तर खुले रहेंगे। उन्होंने बताया पुलिस, अस्पताल, अग्निशमन विभाग, बिजली दफ्तर, नगरनिगम, प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया और बैंकिंग जैसी कुछ सेवाएं जारी रहेंगी।

Loading...

केजरीवाल ने कहा कि पूरे विश्व में कोरोना का प्रकोप बना हुआ है। हम भाग्यशाली रहे कि हमारे देश में यह देर से आया। इस दौरान जो देश इससे प्रभावित हुए उनसे सीख लेते हुए हम प्रभावी कदम उठा पाये हैं। उन्होंने कहा कि यदि सीख लेकर भी कड़े कदम नहीं उठाये तो हम स्वयं को माफ नहीं कर पायेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में अभी कोरोना वायरस का प्रकोप बहुत जोर पर नहीं है। अभी तक कुल 27 मामले सामने आये हैं। इनमें से 21 ऐसे मामले हैं जो विदेशों से आने वाले लोगों से जुड़े हैं। केवल छह मामले ऐसे हैं जो दूसरे के संपर्क में आने से संक्रमित हुए है। जबकि एक व्यक्ति की इसके संक्रमण के कारण मौत हो गयी है। पांच को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी।

केजरीवाल ने कहा कि दूसरों में यह वायरस न फैले इसी को ध्यान में रखते हुए हमने कल सुबह छह बजे से 31 मार्च तक लॉक डाउन का फैसला लिया है।बैजल और केजरीवाल ने लोगों से अपील की है कि सभी कदम जनता की हिफाजत के लिए एहतियात के तौर पर उठाये गये हैं और इन कदमों से जितने अधिक लोगों की हम जान बचा पाये, तो वह बहुत बड़ी उपलब्धि होगी।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

मरकज को लेकर भड़के राज ठाकरे, कहा- ‘ऐसे लोगों को तो गोली मार देनी चाहिए

जहां एक तरफ तबलीगी जमात के मरकज में शामिल लोगों की वजह से देश में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *