Breaking News

Muzaffarnagar : सामूहिक विवाह योजना में करा दी शादीशुदा गर्भवती की शादी

मुजफ्फरनगर। सामूहिक विवाह योजना के तहत Muzaffarnagar मुजफ्फरनगर में गडबड़ी का मामला सामने आया है। यूपी में सीएम के सामूहिक विवाह योजना में फर्जीवाड़ा रुकने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में गौतमबुद्ध नगर जिले में योजना का लाभ लेने के लिए कई दंपतियों ने दोबारा शादी कर ली थी। ऐसा ही कुछ मामला मुजफ्फरनगर में भी सामने आया है, जहां आए कई जोड़ों की पहले ही शादी हो चुकी थी। इनमें से एक महिला तो गर्भवती निकली। उसने कबूल किया कि उसकी शादी आठ माह पहले हो चुकी है।

सामुहिक विवाह का Muzaffarnagar में जमकर मजाक उड़ा

मुख्यमंत्री की सामुहिक विवाह योजना का Muzaffarnagar में जमकर मजाक उड़ा। बुधवार को हुए सामूहिक विवाह में पहले से ही शादीशुदा जोड़ों की दोबारा शादी करा दी गई। वहीं, इस दौरान जिला प्रशासन इससे बेखबर रहा।
योजना के तहत गरीब कन्याओं का सामूहिक विवाह कराया जाता है। इसमें वधु को 20 हजार रुपये का चेक और घर में इस्तमाल होने वाली चीजें दी जाती हैं। बुधवार को मुजफ्फरनगर के में सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में 443 जोड़ों ने हिस्‍सा लिया था, जिसमें 105 मुस्लिम जबकि 338 हिंदू जोड़े थे। इस समारोह में कई जोड़े ऐसे भी थे, जिनकी पहले ही शादी हो चुकी थी। इतना ही नहीं एक गर्भवती महिला मोनिका भी इन जोड़ों में शामिल थी।

Loading...

किसी का ध्यान नहीं गया

मोनिका से जब इस बारे सवाल किया गया तो उन्‍होंने पहले तो कहा कि उनकी शादी आज ही हो रही है लेकिन जब उनसे गर्भवती होने पर सवाल किया तो वह अपने पति की तरफ देखा और पूछा कि बता दूं। इसके बाद उन्‍होंने बताया कि उनकी आठ माह पहले शादी हो चुकी है। उनके अलावा वहां आए दूल्‍हे राहुल ने बताया कि उसकी शादी 8 मार्च को हुई थी। वह यहां दोबारा शादी करने आए हैं। वहीं, रोहित ने बताया कि उसकी शादी 12 मार्च को हो चुकी है। जब यह विवाह हो रहा था तो वहां पर जिले के प्रशासनिक अधिकारियों से लेकर नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ था, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं गया।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

गणतंत्र दिवस के दिन काला दिवस मनाने का आह्वान करने वाले नक्सलियों ने यहाँ मचाई तबाही

ओडिशा में गणतंत्र दिवस के दिन विकास कार्य रोकने और काला दिवस मनाने का आह्वान ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *