अब चीन जाकर WHO की टीम लगाएगी पता कि ये कोरोनावायरस कहां से आया

इस समय पूरी दुनिया कोरोनावायरस जैसी घातक महामारी का प्रकोप झेल रही है। ऐसा कहा जा रहा है कि ये वायरस चीन से फैला है। इसी का पता करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन जल्द ही अपनी एक टीम चीन भेजेगी जहां ये टीम पता करेगी कि कोरोनावायरस आखिर आया कहां से है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक अब ये जानना बेहद जरूरी हो गया है कि कोरोनावायरस आया कहां से है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि अभी भी दुनिया के बड़े देश संक्रमण पर राजनीति कर रहे हैं जिससे इसके परिणाम और बुरे होने वाले हैं। संगठन ने साथ ही चेतावनी जारी कर कहा है कि अभी संक्रमण का इससे भी बुरा दौर आना बाकी है।

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस एडहनॉम गिब्रयेसॉस ने कहा, ”जब हमें वायरस के बारे में सब कुछ पता होगा तो हम उससे बेहतर तरीके से लड़ सकेंगे। इसमें ये पता लगाना भी शामिल है कि वो आया कहां से। हम अगले हफ्ते एक टीम को इसके लिए चीन भेज रहे हैं और हमें उम्मीद है कि इससे वायरस की उत्पत्ति के बारे में समझने में मदद मिलेगी।”

Loading...

हालांकि उन्होंने ये साफ नहीं किया कि टीम में कौन-कौन होगा, ना ही उन्होंने ये बताया कि विशेष रूप से उनका मकसद क्या होगा। डब्ल्यूएचओ एक टीम को अगले हफ्ते चीन भेज रहा है, जो ये पता लगाएगी कि वैश्विक महामारी फैलाने वाला वायरस आखिर कहां से आया।

उन्होंने मई की शुरुआत से ही चीन को बार-बार कह रहा है कि वो उसके विशेषज्ञों को बुलाए, जो कोरोना वायरस के एनिमल सोर्स का पता लगाने में मदद करेंगे। वैज्ञानिकों का मानना है कि वायरस जानवरों से इंसान में आया, संभवत: वुहान के एक बाजार से जहां असाधारण जानवरों के मांस की बिक्री होती है।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

मुख्यमंत्री गहलोत का भाजपा पर सरकार गिराने के षड़यंत्र का आरोप

राजस्थान में विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *