Breaking News

जनपद के स्वास्थ्य केन्द्रों में मनाया गया पीएमएसएमए दिवस

• दिवस पर निजी अल्ट्रासाउंड के लिए बने 527 ई-रूपी बाउचर

वाराणसी। जनपद के समस्त ग्रामीण व शहर स्तरीय सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के साथ विभिन्न चिकित्सालयों में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस (पीएमएसएमए दिवस) मनाया गया। इस दौरान केंद्र पर आई गर्भवती को प्रसव पूर्व जांच की सेवाएँ दी गईं। साथ ही योजना से जुड़े जिले के निजी अल्ट्रासाउंड सेंटर पर गर्भवती को अल्ट्रासाउंड की सेवा ई-रूपी बाउचर के माध्यम से मिली। स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार को निजी अल्ट्रासाउंड के लिए 527 ई-रूपी बाउचर जनरेट कर स्वास्थ्य केन्द्रों को प्रदान किए गए।

पीएमएसएमए दिवस

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ संदीप चौधरी ने बताया कि जच्चा-बच्चा की सुरक्षा व सुरक्षित प्रसव के साथ शिशु व मातृ मृत्यु दर में कमी लाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस मनाया जा रहा है। यह दिवस हर माह की एक, नौ तारीख, 16 और 24 तारीख को मनाया जा रहा है। पीएमएसएमए दिवस में डिजिटलीकरण को भी बढ़ावा दिया जा रहा है।

👉दिल्ली के लोग अब झुलसाने वाली गर्मी के लिए हो जाए तैयार, तेजी से बढ़ेगा तापमान

इस क्रम में जिले के निजी अल्ट्रासाउंड केन्द्रों को योजना से जोड़ा जा रहा है, जिससे गर्भवती को उन केन्द्रों पर अल्ट्रासाउंड की सुविधा मिल सके। इसके लिए ई-रूपी बाउचर की सुविधा शुरू की गई है। इसमें गर्भवती को सभी सीएचसी-पीएचसी से ई-बाउचर प्रदान किया जा रहा है। गर्भवती उस ई-रूपी बाउचर से अल्ट्रासाउंड की सुविधा का लाभ उठा रही हैं।

पीएमएसएमए दिवस

डिप्टी सीएमओ व अभियान के नोडल अधियाकरी डॉ एचसी मौर्य ने बताया कि स्वास्थ्य केन्द्रों पर नियमित जांच व उच्च जोखिम गर्भावस्था वाली महिलाओं की प्रसव पूर्व जाँच (एएनसी) कर मातृ एवं शिशु मृत्यु दर मं् कमी लायी जा सकती है। गर्भवती की नियमित जांच एवं प्रसव पश्चात उचित देखभाल की सुविधा देने के लिए आयोजन का विस्तार किया गया है।

👉अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने वीरता और पराक्रम के प्रतीक महाराणा प्रताप की 483वीं जयंती मनाई

इस दौरान गर्भवती के ब्लड ग्रुप, हीमोग्लोबिन, यूरिन, मधुमेह, सिफलिस, एचआईवी आदि की जांच की जाती है। जांच के दौरान ही उच्च जोखिम गर्भावस्था (एचआरपी) वाली महिलाएं चिह्नित की जाती हैं और उनके सुरक्षित प्रसव की व्यवस्था कराई जाती है। इसके लिए उन्हें उच्च चिकित्सा इकाइयों पर रेफर भी किया जाता है। उन्होंने बताया कि जिले में अबतक 38 निजी अल्ट्रासाउंड सेंटर योजना से जोड़े जा चुके हैं।

पीएमएसएमए दिवस

जिला मातृत्व स्वास्थ्य परामर्शदाता पूनम गुप्ता ने बताया कि पीएमएसएमए दिवस के अंतर्गत मंगलवार को सीएचसी-पीएचसी से मिली गर्भवती की सूची के अनुसार 527 लाभार्थियों का ई-रूपी बाउचर अल्ट्रासाउंड के लिए तैयार किया गया। यह सभी बाउचर उन सीएचसी-पीएचसी को प्रदान किए जा चुके हैं।

पिंडरा ब्लॉक की 26 वर्षीय सविता (परिवर्तित नाम) बताती हैं कि आज उन्होने सिंधौरा स्थित निजी डायग्नोस्टिक सेंटर पर अल्ट्रासाउंड की जांच ई-रूपी बाउचर से कराई। यह बाउचर उन्हें पिछले माह की 24 तारीख को पीएमएसएमए दिवस के दौरान मिला था। उसी दिन उन्हें क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता ने इस बाउचर के बारे में जानकारी दी थी जिसका उन्होंने आज लाभ उठाया।

रिपोर्ट-संजय गुप्ता 

About Samar Saleel

Check Also

अविवि ने रामनवमी के दिन तुलसी उद्यान में निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाया

• 200 से अधिक श्रद्धालुओं का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण एवं दवा वितरित की गई अयोध्या। ...