एस जयशंकर ने प्रिंस फैजल बिन फरहान के साथ की वार्ता, राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर हुई चर्चा

भारत और सऊदी अरब के बीच रणनीतिक आर्थिक संबंधों के महत्व पर जोर देते हुए, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने  कहा कि सहयोग “साझा विकास, समृद्धि, स्थिरता, सुरक्षा और विकास का वादा” रखता है।

बैठक में दोनों नेताओं ने वर्तमान वैश्विक राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर चर्चा की तथा जी-20 व अन्य बहुपक्षीय संगठनों में मिलकर काम करने पर सहमत हुए।जयशंकर सऊदी अरब के साथ भारत के संबंधों को और मजबूत करने के तरीकों पर  चर्चा करने के लिए तीन दिवसीय यात्रा पर  रियाद पहुंचे थे।

उन्होंने रियाद में प्रिंस सऊद अल फैसल इंस्टीट्यूट ऑफ डिप्लोमैटिक स्टडीज में राजनयिकों को संबोधित किया, जहां उन्होंने “ऐसे समय में भारत-सऊदी रणनीतिक संबंधों के महत्व को रेखांकित किया जब दुनिया चौराहे पर है”।

जयशंकर ने अपने सऊदी समकक्ष के साथ भारत-सऊदी अरब रणनीतिक साझेदारी परिषद के ढांचे के तहत स्थापित राजनीतिक, सुरक्षा, सामाजिक और सांस्कृतिक सहयोग समिति (PSSC) की पहली मंत्रिस्तरीय बैठक की सह-अध्यक्षता की। जयशंकर ने सुबह रियाद में ‘प्रिंस सऊद अल फैजल इंस्टीट्यूट ऑफ डिप्लोमैटिक स्टडीज’ में राजनयिकों को संबोधित किया।

About News Room lko

Check Also

जानिए आखिर कौन हैं Baba Vanga जिन्होंने दशकों पहले भारत के लिए की थी ये डराने वाली भविष्यवाणी

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अपनी भविष्यवाणियों के लिए मशहूर बाबा वेंगा की ...