Breaking News

काशी विद्यापीठ में लगातार हो रहे अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ छात्रों ने खोला मोर्चा

प्रेस वार्ता के दौरान, छात्रों ने नेताओं को अवगत कराया कि विगत कुछ महीने पहले नवरतन सिंह के ऊपर एक छात्रा द्वारा छेड़खानी का आरोप भी लगाया गया है, जिसे लेकर विश्विद्यालय द्वारा अभी तक कोई कार्यवाही इनके ऊपर नहीं की गई।

वाराणसी। काशी विद्यापीठ के छात्रसंघ भवन में आयोजित प्रेस वार्ता में काशी विद्यापीठ में लगातार हो रहे अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ छात्रों ने मोर्चा खोल दिया है। प्रेस वार्ता के दौरान, छात्रसंघ के पूर्व महामंत्री एवं एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ऋषभ पांडेय ने बताया कि विगत दिनों छात्रसंघ के चुनाव में तमाम अनिमियतताएं विश्वविद्यालय द्वारा किया गया।

काशी विद्यापीठ में लगातार हो रहे अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ छात्रों ने खोला मोर्चा

इसका साक्ष्य विश्वविद्यालय को देने के बावजूद भी, विश्वविद्यालय द्वारा ग्रीवांस सेल में जांच का हवाला देकर उसे लीपापोती करने का कार्य किया जा रहा है। इससे मजबूर होकर महामंत्री पद के प्रत्याशी प्रभु पटेल को उच्च न्यायालय की शरण लेनी पड़ी। बात यहीं समाप्त नहीं होती, विश्वविद्यालय के प्रोफेसर लगातार छात्रों पर राजनीति कर अपने भ्रष्टाचार के कार्य में लिप्त हैं।

इसका नतीजा ये हुआ की विगत दिनों कुलपति से मिलकर अपनी बात रखने के लिए जब छात्रों ने कुलपति कार्यालय में कार्यरत नवरतन सिंह से मिलकर समय मांगने का प्रयास किया, तो नवरतन सिंह ने छात्रों को कोर्ट से मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने लगे। मुक़दमा वापस ना लेने पर विश्विद्यालय से निलंबन एवं निष्कासन करने की धमकी देने लगे। जब छात्रों ने इसका विरोध किया तो मुकदमा करके जीवन बर्बाद कर देने की धमकी देकर दबाव बनाने का प्रयास करने लगे।

प्रेस वार्ता के दौरान, छात्रों ने नेताओं को अवगत कराया कि विगत कुछ महीने पहले नवरतन सिंह के ऊपर एक छात्रा द्वारा छेड़खानी का आरोप भी लगाया गया है, जिसे लेकर विश्विद्यालय द्वारा अभी तक कोई कार्यवाही इनके ऊपर नहीं की गई। इससे छात्रों में काफी रोष है, लेकिन राजनीति की नर्सरी कही जाने वाली छात्र राजनीति की पहचान ही गलत कार्यों का विरोध एवं निडर होकर लड़ने वाली होती है।

इसके फलस्वरूप, हम सभी छात्रों ने यह निर्णय लिया है जब तक इनके ऊपर विश्विद्यालय द्वारा कोई ठोस करवाई नहीं की जाती तब तक ऐसे भ्रष्टाचार में लिप्त व्यक्ति के खिलाफ हम सभी छात्र आंदोलन रत रहेंगे ||

प्रेस वार्ता के दौरान मुख्य रूप से काशी विद्यापीठ छात्रसंघ के पूर्व महामंत्री एवं एनएसयूआई जिलाध्यक्ष ऋषभ पांडेय, पूर्व महामंत्री प्रफुल पांडेय, पूर्व उपाध्यक्ष संदीप पाल, महामंत्री पद के प्रत्याशी प्रभु पटेल सहित अन्य छात्र उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – जमील अख्तर 

About reporter

Check Also

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में सेन्ट्रल पीस कमेटी की बैठक हुई संपन्न

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Wednesday, July 06, 2022 औरैया। आगामी ...