Breaking News

अपना दल अध्यक्ष पल्लवी पटेल के नेतृत्व में “कमेरा चेतना पदयात्रा” वाराणसी पहुचीं

  • गुरुवार को वाराणसी के शिवपुर विधानसभा के गावों में निकली “कमेरा चेतना पदयात्रा”।
  • 19 से 23 नवम्बर तक वाराणसी के शिवपुर, अजगरा, रोहनिया, सेवापुरी व पिंडरा विधानसभा के गांवो में चलेगी पदयात्रा।

वाराणसी। अपना दल की अध्यक्ष पल्लवी पटेल के नेतृत्व में “कमेरा चेतना पदयात्रा” 17 अक्तूबर 2020 को झाँसी से प्रारम्भ होकर कई जिलों से होते हुये लगभग 1000 किलोमीटर की दूरी तय करते हुये 18 नवम्बर 2020, बुधवार शाम को मीरापुर बसही वाराणसी स्थित अपना दल के जिला कार्यालय पहुंची।

पूर्व नियोजित कार्यक्रम के अनुसार पदयात्रा गुरुवार को पूर्वाह्न 11: 30 बजे मीरापुर बसही स्थित जिला कार्यालय से प्रारम्भ होकर अनौला, रसूलपुर, मढवां, लमही, बनवारीपुर, फ़कीरपुर, बनियापुर, रजनहिया, हृदयपुर, सथवा, लखरांव, अईली और चमरहा आदि क्षेत्रों में पहुचीं। जो अनवरत 20 नवंबर को अजगरा 21 नवंबर को रोहनिया 22 नवंबर को सेवापुरी एवं 23 नवंबर को पिंडरा विधानसभा के गांवो में चलेगी। तत्पश्चात 24 नवंबर को जौनपुर के मड़ियाहूं विधानसभा में प्रवेश करेगी।

पदयात्रा का नेतृत्व कर रही अपना दल की राष्ट्रीय अध्यक्ष पल्लवी पटेल ने कहा कि मेहनतकश कमेरा समाज पर शोषण, किसानों की बदहाली व सामाजिक भेदभाव के खिलाफ विगत 17 अक्टूबर को अपना दल के संस्थापक डॉ सोनेलाल पटेल जी के परिनिर्वाण दिवस को झांसी से कमेरा चेतना पदयात्रा शुरू की गई है। जो प्रदेश भर में के अनेक जनपदों में गांव-गांव में जाकर आम जनता के कमाई, दवाई व पढ़ाई के सवाल पर संवाद एवं संघर्ष की बुनियाद तैयार कर रही है। यह कमेरा चेतना पदयात्रा अभी अन्य कई जनपदों से होते हुए सूबे की राजधानी लखनऊ पहुंचेगी।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से अपना दल युवा मंच के प्रदेश अध्यक्ष गगन प्रकाश यादव, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य राजनाथ राजभर, वाराणसी मंडल अध्यक्ष राजेश पटेल, अद जिलाध्यक्ष उमेश चंद्र मौर्य, जन अधिकार पार्टी के जिलाध्यक्ष बबलू मौर्य, गौरीशंकर पटेल, शिवशंकर पटेल, राजकुमार पटेल (जिला पंचायत सदस्य), मिठाई लाल, महेंद्र राजभर, अवधेश वर्मा विजय नारायण वर्मा, मो साहिल, विनोद पटेल, समेत काफी संख्या में लोग शामिल रहे।

रिपोर्ट- जमील अख्तर

About Aditya Jaiswal

Check Also

लक्ष्मण ने संभाल लिया गुलजार का ढाबा… नाम प्रदर्शित करने के मामले में बढ़ी बेचैनी

मुजफ्फरनगर:  कांवड़ मार्ग पर नाम प्रदर्शित करने के फैसले से दिल्ली-दून हाईवे के दुकानदारों में ...