Breaking News

पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर की थी पति की हत्या, रात्रि में फोन कर प्रेमी को बुलाया, तीन माह से चल रहा था प्रेम-प्रसंग

औरैया/बिधूना। कोतवाली बिधूना की चौकी रूरूगंज क्षेत्र के गांव रूरूकलां निवासी एक युवक की अपने ही मकान के अंदर वाले कमरे में शनिवार की रात्रि मौत हो गयी थी। मृतक की बड़ी पुत्री ने अपनी ही मां पर पिता की हत्या करने का आरोप लगाया था। अब रविवार को पुलिस ने घटना कि खुलासा कर दिया है। पुलिस के अनुसार महिला का गांव के ही एक युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसमें पति बाधक बना हुआ था। जिसके चलते महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर तकिया से पति का मुंह दबाकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने दोनों हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक चारू निगम ने रविवार को घटना का खूलासा करते हुये बताया कि कोतवाली बिधूना क्षेत्र के गांव रूरूकलां निवासी दीपू उर्फ भूरे (35) पुत्र मोतीलाल की पत्नी प्रीती देवी (32) का गांव के ही युवक राजू उर्फ बन्नेलाल यादव पुत्र राजेन्द्र सिंह के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था। शनिवार की सुबह दीपू का शव उसके घर के कमरे में चारपाई पर मिला था। पूछताछ में मृतक की नाबालिग पुत्री ने बताया था कि उसकी मां ने रात्रि में उसे ताऊ के घर में सोने को भेज दिया था। जहां उसे अपने पिता की चीखने आवाज लगी तो उसने घर में आकर मां से पिता की कुशलता के बारे में पूछा, तो उसने पहले अंदर नहीं आने दिया।

जिस कारण वो अपने पापा को नहीं देख पायी। सुबह उसे पिता का शव मिला। दीपू की पत्नी प्रीती को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी तो उसने कुबूल किया कि उसने अपने प्रेमी राजू के साथ मिलकर पति की हत्या कर दी। महिला का आरोप है कि उसका पति शराब पीकर उसे मारता पीटता था। जिस कारण उसने योजना बनाकर पति की हत्या कर दी। पुत्री के द्वारा बताया गया कि चारपाई पर एक छोटी सी तकिया मिली थी। जो उसकी मां ने दो दिन पहले ही बनायी थी। जिसे साक्ष्य के तौर पर कलेक्ट किया गया है। पीएम रिपोर्ट में भी हत्या का कारण मुंह दबाकर आया है। बताया कि दोनो को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिनका चालान कर न्यायालय में भेजा जा रहा है।

पत्नी और प्रेमी द्वारा रची घातक साजिश का शिकार हुआ व्यक्ति, प्राकृतिक लग रही मौत

स्वयं रोटी बना भूरे ने पुत्री के साथ खाया खाना

घटनाक्रम में अनुसार भूरे शुक्रवार को पास के ही गांव मुग्गपुर में लहसुन की निकाई करने गया था। वह शाम को सब्जी लेकर घर आया। जहां पर शाम को प्रीती ने सिर्फ चना के साग की सब्जी बनायी। बड़ी पुत्री नाजुक (12 वर्ष) के अनुसार मां ने रोटी नहीं सेंकी थी। जिस पर भूरे ने स्वयं रोटी बनायी। जिसके बाद भूरे व उसकी बेटी नाजुक ने साथ में खाना खाया। जिसके बाद भूरे अंदर वाले कमरे में सोने चला गया।

प्रीती ने पुत्री को सोने के लिए ताई के घर भेजा

उसी समय देर शाम करीब 7ः30 बजे प्रीती ने बड़ी बेटी नाजुक को ताई मिथलेश पत्नी सुनील के घर जाकर सोने के लिए बोला। जिस पर नाजुक ने वहां जाने से मना किया, पर प्रीती ने उसे जबरदस्ती ताई के घर सोने के लिए भेज दिया। सुनील का मकान भूरे के मकान के पीछे है, जिनकी दीवार आपस में मिली हुईं हैं। मृतक की दूसरी बेटी महक (10 वर्ष) अपनी बुआ के घर नौगवां गयी थी। घर पर एक मात्र पुत्र संस्कार (05 वर्ष) ही मौजूद था। जिसे प्रीती ने बाहर वाले कमरे में सुला दिया था।

शनिवार सुबह पुत्री ने लगाया आरोप

ताई के घर लेटने गयी भूरे की बड़ी पुत्री नाजुक ने शनिवार की सुबह ही अपनी मां प्रीती को शक के दायरे में खड़ा करते हुए कहा था कि जब वह रात्रि में ताई के घर लेटी थी तो उसे पापा के चीखने की आवाज सी लगी। जिस पर वह रात्रि में ही घर आयी पर मां ने अंदर वाले कमरे का गेट नहीं खोला। जिसके बाद वह बाहर वाले कमरे में आ गयी। कुछ समय बाद वह पुनः गयी तब गेट खोला तो मैंने पापा को दिखाने को कहा, पर मां ने पापा को नहीं दिखाया।

प्रीती ने कहा सपना देखा जिस कारण चीख पड़े थे

मां ने कहा कि उन्होंने सपना देखा जिस कारण चीख पड़े थे। जिसके बाद वह बाहर वाले कमरे में अपने भाई साथ लेट गयी। सुबह करीब 6 बजे उठी और देखा कि पापा की मौत हो चुकी थी। जिसके बाद उसने इस बात की जानकारी आसपास के लोगों के साथ परिजनों को दी। आस-पास के लोगों ने आकर देखा तो भूरे मृत अवस्था में पड़ा था। भूरे की मौत की जानकारी होते ही बच्चों व परिजनों में कोहराम मच गया। रोने वालों में प्रीती भी शामिल थी।

डॉ राम मनोहर लोहिया राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय : सीनियर स्केल के इंतजार में शिक्षक मानसिक रूप से त्रस्त, शिक्षकों का मनोबल गिरा

प्रीती ने मायके में पांच बजे ही दे दी थी जानकारी

भूरे की मौत की जानकारी प्रीती ने गांव वालों से पहले शनिवार की सुबह 5 बजे ही फोन कर अपने मायके वालों को दे दी थी। उसने फोन कर अपने मायके माधौ सिंह पुर्वा बताया था कि भूरे ने कुछ खा लिया जिससे उनकी मौत हो गयी है। जबकि परिवार व आस-पास के लोगों को भूरे की मौत की जानकारी सुबह 6 बजे हुयी। वह भी तब जब नाजुक ने बताया कि उसके पापा नहीं रहे।

प्रीती ने कहा था कि मोहल्ले में उसकी कोई भली नहीं कह रहा

शनिवार की सुबह बातचीत करने पर प्रीती ने कहा था कि मोहल्ले वाला कोई मेरी भली नहीं कह रहा है। पति ने मुझे मारा मेरी गर्दन दबा दी। मेरी गलती इतनी थी कि घर पर बात करने को मोबाइल मांगा था। जिसके बाद मैंने फांसी लगाने की बात कही तो मेरे घर फोन कर सबको बता दिया।

महिला ने कुबूल किया गुनाह, कहा राजू ने मुंह दबा के मारा

पुत्री के आरोप के कुछ समय बाद ही पुलिस ने मृतक भूरे की पत्नी प्रीती को शक के आधार पर हिरासत में ले लिया। जिसके बाद उसे कोतवाली ले आयी जहां पर पूछताछ में प्रीती ने अपना जुर्म कबूल लिया। उसने बताया कि उन्हीं ने (यानि प्रेमी राजू) ने तकिया से मुंह दबा के मार दिया। उन्हीं कौन तो बताया राजू ने। महिला ने बताया कि उसका तीन माह से राजू के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन/राहुल तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

नेग्लेक्टेड ट्रॉपिकल डिजीज डे: समुदाय में जागरूकता लाएं, उपेक्षित बीमारियों पर काबू पाएं

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें • इन बीमारियों के उन्मूलन के प्रति विश्व ...