Breaking News

भारत की मजबूत विदेश नीति का मिला व्यापारिक लाभ, खाड़ी देशों में 44 प्रतिशत बढ़ा भारत का निर्यात

भारत की मजबूत नीति का फायदा अब व्यापारिक संबंधों में भी देखने को मिल रहा है, खाड़ी सहयोग परिषद (GCC) के छह देशों को भारत का निर्यात 2021-22 में सालाना आधार पर 44 प्रतिशत बढ़कर लगभग 43.9 अरब डॉलर हो गया। जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में यह आंकड़ा 27.8 अरब डॉलर था। जीसीसी की स्थापना मई, 1981 में हुई थी। इसके सदस्य सऊदी अरब, बहरीन, कुवैत, ओमान, कतर और यूएई हैं।

निर्यातकों के शीर्ष संगठन फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन (Federation of Indian Export Organisations, FIEO) ने यह जानकारी देते हुए कहा कि निर्यात में 68 प्रतिशत वृद्धि के साथ खाड़ी देशों में यूएई कुल मूल्य के आधार पर शीर्ष पर रहा। फियो ने बयान में कहा है कि जीसीसी को कागज और संबद्ध उत्पादों का निर्यात 2021 में 63.8 करोड़ डॉलर तक पहुंच गया। इसमें यूएई की हिस्सेदारी 38.6 करोड़ डॉलर रही।

फियो के महानिदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी अजय सहाय ने कहा वित्त वर्ष 2021-22 में जीसीसी को हमारा निर्यात प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा है। यूएई के अलावा, हमारा निर्यात सऊदी अरब में 49 प्रतिशत, ओमान में 33 प्रतिशत, कतर में 43 प्रतिशत, कुवैत में 17 प्रतिशत और बहरीन में 70 प्रतिशत बढ़ा।

कागज उद्योग के मामले में भारत की जीसीसी में 16 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी है और इसे 2027 तक बढ़ाकर 25 प्रतिशत तक करने का लक्ष्य है। गौरतलब है कि भारत और यूएई ने इस साल फरवरी में सीईपीए (व्यापक आर्थिक साझेदारी समझौता) पर हस्ताक्षर भी किए हैं।

रिपोर्ट: शाश्वत तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

श्री रामलीला समिति ऐशबाग में हुआ लैमिनेटेड रावण पुतला दहन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। सिद्धभूमि श्री रामलीला ऐशबाग जहाँ गोस्वामी तुलसीदास ...